Corona_Updates

#FightAgainstCorona : धनबाद आइआइटी-आइएसएम ने बनाया ऐसा किट, एक वेंटिलेटर पर चार मरीजों को रखा जा सकेगा

विज्ञापन

Dhanbad : धनबाद आइआइटी-आइएसएम ने पीएमसीएच को वेंटिलेटर मे लगनेवाला एक किट सौंपा है. इस किट को वेंटिलेटर में लगाया जा सकेगा और इसके माद्यम से वेंटिलेटर पर चार मरीजों को रखा जा सकेगा.

देखें वीडियो

यह एक साथ चार मरीजों को आवश्यकतानुसार ऑक्सीजन उपलब्ध करायेगा. कोरोना वायरस से जंग लड़ने के लिए आइआइटी-आइएसएम में इस अनूठे वेंटिलेटर किट को तैयार किया गया है.  चिकित्सा व्यवस्था को आसान बनाने के उद्देश्य से आइआइटी-आइएसएम में एक खास तरह का वेंटिलेटर किट तैयार किया गया है.

advt

इसे भी पढ़ें – सूद पर पैसे लेकर उपजायी सब्जियां, लॉकडाउन ने बढ़ायी मुसीबत अब आत्महत्या की नौबत

आवश्यकता के अनुसार चार मरीजों को एक साथ मिल सकेगा ऑक्सीजन

आइआइटी-आइएसएम ने फिलहाल दो तरह के वेंटिलेटर किट तैयार किये हैं. इन दोनों वेंटिलेटर किट को संस्थान ने पीएमसीएच को सौंप दिया है. हालांकि इसका प्रयोग तत्काल नहीं होगा. क्लीनिकल परीक्षण के बाद ही इसका इस्तेमाल संभव है.

कोरोना वायरस से जंग लड़ने के लिए आइआइटी-आइएसएम ने अमेरिका के तर्ज पर एक ऐसा वेंटिलेटर किट तैयार किया है जिससे एक साथ चार लोगों की जिंदगी बचायी जा सकती है. इस वेंटिलेटर पर एक साथ चार लोगों को रखा जा सकेगा. वेंटिलेटर की सबसे बड़ी खासियत यह है कि चारों मरीज को उनकी आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन मिलेगा.

इसे भी पढ़ें – #Lockdown की बढ़ सकती है अवधि? राज्य सरकारों के सुझाव के बाद केंद्र कर रहा विचार, सरकारी पोर्टल से डिलीटेड ट्वीट भी दे रहा संकेत

adv

मरीज की उम्र के हिसाब से ऑक्सीजन

इस वेंटिलेटर किट में कई विशेष फीचर भी इनबिल्ड हैं. साधारणत: वेंटिलेटर के साथ दो टी पीस कनेक्टर जुड़े होते हैं. ऐसे वेंटिलेटर अमेरिका को छोड़ कर अन्य कहीं नहीं हैं. जिससे एक से अधिक लोगों का जीवन बचाया जा सकता हो. विशेष वेंटिलेटर आपदा के समय में इस्तेमाल किया जाता है. इसमें एक को इंसपीरेटरी क्लब के साथ और दूसरे को एक्सपीरेटरी क्लब के साथ जोड़ कर एक साथ चार वेंटिलेटर सर्किट कनेक्ट किये गये हैं. इसकी खासियत यह है कि यह मरीज की उम्र के हिसाब से ऑक्सीजन मुहैया करायेगा.

उदाहरण के तौर पर यदि एक मरीज युवा है और दूसरा बुजुर्ग. ऐसे में बुजुर्ग को अधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता होगी. अलग- लग मरीजों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए इसमें फ्लो कंट्रोल वॉल्व भी दिया गया है. साथ ही वेंटिलेटर में अलग-अलग साइज के होल हैं जो डिफ्रेंशियल फॉलो मेंटेन करेगा यानी ऑक्सीजन को आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन मुहैया करायेगा.

इसे भी पढ़ें – #CoronaVirus : हिंदपीढ़ी में कोरोनो पॉजिटिव पायी गयी महिला को सैंपल लेने के बाद भेज दिया गया था घर, इतनी बड़ी लापरवाही का दोषी कौन?

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button