Corona_UpdatesKhas-Khabar

#Lockdown की बढ़ सकती है अवधि? राज्य सरकारों के सुझाव के बाद केंद्र कर रहा विचार, सरकारी पोर्टल से डिलीटेड ट्वीट भी दे रहा संकेत

New Delhi: कोरोना वायरस से लड़ने का कारगर तरीका है सोशल डिस्टेंसिंग और इसी सोशल डिस्टेंसिंग को बनाये रखने के लिए केंद्र सरकार ने देश में 21 दिनों का लॉकडाउन किया है. लेकिन देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और राज्य सरकारों और विशेषज्ञों के सुझाव के बाद ये संकेत मिल रहे हैं कि सरकार 14 अप्रैल को खत्म होनेवाले लॉकडाउन को बढ़ा सकती है.

Jharkhand Rai

Samford

सूत्रों की मानें तो केंद्र सरकार इस बात पर विचार कर रही है. दरअसल, कई प्रदेश सरकारों ने लॉकडाउन को बढ़ाने का सुझाव दिया है. इसके साथ ही कोरोना मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी के मद्देनजर कई एक्सपर्ट्स ने भी लॉकडाउन को और कुछ हफ्तों के लिए बढ़ाने की बात कही है.

इसे भी पढ़ेंःमंत्री हाजी हुसैन का बेटा तनवीर निकला कोरोना निगेटिव, जमात में शामिल हुआ या नहीं हो रही जांच

दूसरी तरफ, सरकार के पोर्टल MyGovIndia के ट्विटर हैंडल से मंगलवार दोपहर लॉकडाउन बढ़ाने की खबरों को ‘निराधार’ बताया गया. लेकिन कुछ ही मिनटों में इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया. क्‍या ट्वीट डिलीट करना यह संकेत है कि सरकार लॉकडाउन बढ़ाने पर गंभीरता से सोच रही है.

दो हफ्तों के लिए लॉकडाउन बढ़ाने की अपील

कोरोना वायरस का संक्रमण देश में तेज हुआ है. कुछ राज्यों जैसे महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली,यूपी, मध्य प्रदेश में मरीजों की संख्या अचानक बढ़ी है.

इस बीच तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने केंद्र की मोदी सरकार को सुझाव दिया था कि लॉकडाउन को और दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया जाए. हालांकि, केसीआर ने जिस रिपोर्ट के आधार पर यह सुझाव दिया था, उसमें 2 जून तक लॉकडाउन लागू करने की अपील की गई थी.

वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि लॉकडाउन को तुरंत नहीं हटाया जाना चाहिए. इसको चरणबद्ध तरीके से हटाया जाना चाहिए.

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार को राज्य सरकारों को लॉकडाउन हटाने और लगाने का अधिकार देना चाहिए. लॉकडाउन हटाने का फैसला स्थानीय आधार पर होना चाहिए.

इधर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज चौहान ने भी कहा कि जनता की जान ज्यादा जरुरी है. 14 अप्रैल के हालात तय करेंगे कि राज्य से लॉकडाउन हटेगा या नहीं. कुछ ऐसी ही राय यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की भी है.

सरकारी हैंडल ने डिलीट किया ट्वीट

लॉकडाउन बढ़ाने की अटकलों को लेकर MyGovIndia ने कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के हवाले से सरकारी ट्विटर हैंडल पर लिखा था कि, 21 दिन के लॉकडाउन को बढ़ाने की कोई योजना नहीं है. ट्वीट में इसे बकायदा फैक्‍ट चेक कहा गया. ट्वीट था, “लॉकडाउन के एक्‍सटेंशन से जुड़े दावे निराधार हैं और सरकार ने अभी तक इस बारे में कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं की है. ऐसी अफवाहों का शिकार ना बनें.”

लेकिन कुछ मिनटों में ऐसा क्‍या हुआ कि यह फैक्‍ट चेक गलत निकल गया? और इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया. नवभारत टाइम्स के अनुसार, सरकारी हैंडल से इस बारे में खबर लिखे जाने तक सफाई नहीं दी गई है.

इसे भी पढ़ेंः#Corona पर HC में सुनवाई, राज्य सरकार से पूछा-क्वॉरेंटाइन किये लोग कैसे होंगे सिक्योर

क्यों लॉकडाउन बढ़ाने की हो रही अपील

दरअसल, कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है. पिछले तीन दिनों कोरोना के हजार से अधिक मामले आए हैं और दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हुई है. फिलहाल, भारत में 4481 कोरोना मरीज हैं, जिसमें से 114 की मौत हो चुकी है.

ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग रखना बेहद जरूरी है. कई विशेषज्ञ का भी कहना है कि भारत के लिए मुश्किल भरे दिन बीते नहीं है. ऐसे में लॉकडाउन को बढ़ाना ही सही होगा. क्योंकि लॉकडाउन खत्म होने के बाद लोगों से सामाजिक दूरी बनवाये रख पाना सरकार, पुलिस-प्रशासन के लिए बेहद मुश्किल होगा. और कोरोना वायरस संक्रमण और ज्यादा फैल सकता है.

ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक में फैसला नहीं

इस बीच मंगलवार को केंद्र मंत्रियों की बैठक हुई थी. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर कोरोना संकट और लॉकडाउन को लेकर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की मीटिंग हुई. इस बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि लॉकडाउन को हटाने या आगे बढ़ाने का फैसला नहीं लिया गया है. फिलहाल हालात पर नजर रखी जा रही है. इस बारे में फैसला बाद में लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः#WhatsAPP पर एकसाथ अब पांच नहीं ब्लकि एक ही चैट पर फॉरवर्ड कर सकेंगे मैसेज

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: