Corona_Updates

झारखंड में कोरोना जांच दर : हर दस लाख लोगों में से 8837 की हो रही जांच

♦22,527 लोगों की रैपिड एंटीजेन टेस्ट की गयी, 819 लोग संक्रमित मिले

Ranchi :  झारखंड में प्रति दस लाख व्यक्तियों में 7601 की जांच की जा रही थी. 31 जुलाई से 2 अगस्त तक कुल 47,531 लोगों के नमूने लिये गये, जिसके बाद या जांच दर हर दस लाख पर 8837 हो गयी है. स्वास्थ्य विभाग ने एक विशेष जांच अभियान चलाया था. जिसमें 46,634 लोगों के जांच के नमूने लिये गये. यह जांच आरटी पीसीआर, ट्रू नेट और रैपिड एंटीजन टेस्ट के माध्यम से किये गये.

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार विभिन्न इलाकों से और जांच के नमूने लिये जा रहे हैं, जिससे यह आंकड़ा और बढ़ जायेगा. सोमवार को दोपहर तक 47,531 नमूने जांच लैब में भेजे जा चुके थे. जिनमें 18,663 सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए और 6321 सैंपल ट्रूनेट जांच के लिए भेजे गये हैं. स्पेशल टेस्टिंग ड्राइव में सभी जिलों का लक्ष्य निर्धारित किया गया था, जिससे प्रति दस लाख जांच बढ़ायी जा सके. साथ ही मरीजों को चिन्हित कर आइसोलेट किया जा सके.

advt

इसे भी पढ़ें – हेमंत ने कहा- झारखंड भी मनायेगा विश्व आदिवासी दिवस, सीता सोरेन ने की सार्वजनिक अवकाश की मांग

22,527 लोगों का रैपिड एंटीजेन टेस्ट, 819 लोग संक्रमित मिले

कोरोना के लिए विशेष जांच अभियान चलाया था. जिसमें 46,634 लोगों के सैंपल लिये गये हैं. ट्रूनेट और आरटीपीसीआर में जिन नमूनों को जांच के लिए भेजा गया, उनकी रिपोर्ट आनी बाकी है. वहीं रैपिड एंटीजन टेस्ट से कुल 22,527 नमूने की जांच की गयी थी, जिनमें 819 लोग संक्रमित मिले हैं. इनका पॉजिटिविटी रेट 3.63 प्रतिशत रहा. इस अभियान में वैसे लोगों की जांच की गयी जिनकी उम्र 50 से अधिक है. साथ ही किडनी, शुगर, बीपी, सहित अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं. स्वास्थ्य विभाग इस तरह का और अभियान चला कर जांच में तेजी लाना चाह रहा है. एनएचएम की ओर से इस तरह के और विशेष अभियान की योजना बनायी जा रही है. यह विशेष अभियान 31 जुलाई से 2 अगस्त तक चलाया गया था.

इसे भी पढ़ें – Giridih: 35 लोग स्वस्थ्य होकर लौट, 10 दिनों बाद दूसरी रिपोर्ट आई निगेटिव

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button