Education & CareerJharkhandNEWSRanchiTOP SLIDER

बीएड एडमिशन: सेकेंड मेरिट लिस्ट में 76450 उम्मीदवारों के नाम जारी

12 फरवरी तक संस्थान का चयन कर लें: बोर्ड

Ranchi: झारखंड कंबाइंड एग्जामिनेशन बोर्ड ने राज्य के 136 बीएड कॉलेजों में नामांकन के लिए दूसरे राउंड की काउंसिलिंग लिंक ओपन कर दिया है. इसके साथ ही सेकेंड राउंड की काउंसलिंग के लिए मेरिट लिस्ट भी जारी कर दी गयी है. सेकेंड मेरिट लिस्ट में 76450 उम्मीदवारों के नाम जारी किये गए हैं.

इसे भी पढ़ें:मार्च के पहले शुरू हो जायेगी अधिकांश एक्सप्रेस और पैसेजेंर ट्रेनें, रेलवे बोर्ड को भेजा गया प्रस्ताव

झारखंड कंबाइंड बोर्ड ने कहा है कि जिन स्टूडेंट्स का नाम सेकेंड मेरिट लिस्ट में आया है वो 12 फरवरी तक ऑनलाइन काउंसिलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन करा कर इंस्टिट्यूट का सेलेक्शन करेंगे. झारखंड कंबाइंड बोर्ड की ओर से इसी सेलेक्शन लिस्ट के आधार पर प्रोविजनल सीट एलॉटमेंट लिस्ट जारी किया जाएगा. स्टूडेंट्स इसी सेलेक्शन लिस्ट के आधार पर बीएड कॉलेज में एडमिशन लेंगे. यह लिस्ट 15 फरवरी को जारी किया जायेगा. जिसके आधार पर 20 फरवरी तक नामांकन लिया जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें:कचहरी से कांटाटोली फोरलेन की बढ़ेगी चौड़ाई

13300 सीटों में होना है एडमिशन:

राज्य के 10 सरकारी और प्राइवेट यूनिवर्सिटी में के बीएड कॉलेजों में 13300 सीट है जहां एडमिशन लेना है. इन 13300 सीटों में सामान्य श्रेणी के लिए 5320, इडब्लूएस श्रेणी के लिए 1330, एससी श्रेणी के लिए 1330, एसटी प्रिमिटिव श्रेणी के लिए 266, एसटी 3192, बीसी वन श्रेणी के लिए 1064 और बीसी टू श्रेणी के लिए 798 सीट हैं. गौरतलब है कि राज्य के 133 बीएड कोलेजों में 22 कॉलेज ही सरकारी है, जहां 2200 सीटें हैं.

इसे भी पढ़ें:हाइवा की चपेट में आने से एक की मौत, सड़क जाम

दो राउंड ही होगी काउंसलिंग:

राज्य के बीएड कॉलेजों में एडमिशन के लिए दो राउंड काउंसलिंग ही तय की गयी है. पहले राउंड की काउंसलिंग पूरी हो चुकी है. दूसरे राउंड की काउंसलिंग के लिए सेकेंड लिस्ट जारी किया गया है. हालांकि दूसरे राउंड की काउंसलिंग के भी अगर बीएड कॉलेजों में सीटें खाली रह जाती हैं तो क्या किया जायेगा, इसे लेकर अभी कोई आदेश नहीं आया है. बताते चलें कि गत वर्ष काउंसलिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद खाली रह गयी सीटों को कॉलेजों को वापस कर दिया गया था. जिसमें कॉलेजों ने अपनी सुविधानुसार एडमिशन लिया था.

इसे भी पढ़ें:दस लाख मजदूर हुए रजिस्टर्ड, कंपनियों की डिमांड 7000 की, कितनों को मिला रोजगार विभाग को पता नहीं

 

Related Articles

Back to top button