Jharkhand Vidhansabha ElectionMain Slider

झारखंड में ब्यूरोक्रेसी की पहली पसंद रघुवर, उनके बूथों पर भाजपा को 1002 तो गठबंधन को सिर्फ 462 वोट मिले

विज्ञापन

Ranchi: पांचवीं विधानसभा चुनाव के नतीजों में महागठंधन को प्रचंड बहुमत मिला है. लेकिन आंकड़ों को देखें तो जो नतीजे चौंकानेवाले हैं.

रांची विधानसभा से महागठबंधन उम्मीदवार के रूप में महुआ माजी खड़ी थीं. वहीं भाजपा उम्मीदवार सीपी सिंह  चुनाव मैदान में थे. पिछल्ले तीन सालों से राज्य में कुछ अधिकारियों को छोड़, भाजपा के प्रति नाराजगी वरीय अधिकारियों में भी देखने को मिल रही थी. जो सरकार की नीतियों से खुश नहीं लग रहे थे. लेकिन चुनावी नतीजों के बाद जारी मतदान के आंकड़े बताते हैं कि राज्य के आइएएस-आइपीएस की पहली पसंद भाजपा ही रही है.

इसे भी पढ़ें – पीएमएस-एससी फंड के इस्तेमाल में झारखंड से आगे छत्तीसगढ़, कल्याण मंत्रालय ने रिपोर्ट जारी की

advt

पांच वीआइपी बूथों पर भाजपा को सर्वाधिक मत

राजधानी रांची के पांच वीआइपी बूथों में झामुमो की जगह भाजपा को सर्वाधिक मत पड़े हैं. मतदान के आंकड़े बताते हैं कि मोरहाबादी के तीन और एटीआइ के दो बूथों में भाजपा को जहां 1002 मत मिले वहीं जेएमएम को केवल 462 वोट की मिले हैं. उल्लेखनीय है कि राज्य के टॉप ब्यूरोक्रेट्स के आवास इन्ही इलाकों में हैं औऱ वोटर लिस्ट में उका नाम इन्हीं बूथों पर है.

इसे भी पढ़ें – विज्ञापन तक में ही सिमटा जेपीएससी, परीक्षा तिथि की नहीं दे रहा जानकारी

मतदान के आंकड़ों को देखें तो मोरहाबादी के बूथ संख्या 08 में कुल 509 मतदताओं ने मतदान किया है. जिनमें से बीजेपी को 366 और जेएमएम को 109 मत मिले. वहीं मोरहाबादी के बूथ संख्या 09 में 220 मतदताओं ने मतदान किया, जिनमें 123 वोट भाजपा को और जेएमएम को 66 वोट मिले. मोरहाबादी बूथ संख्या 10 में 317 मतदताओं ने मतदान किया. जिनमें से 185 ने भाजपा को और 92 ने जेएमएम को वोट दिये.

एटीआइ बूथ संख्या 15 के 248 मतदताओं ने मतदान किया था, जिनमें 137 ने भाजपा को और 77 ने जेएमएम को वोट दिये. वहीं एटीआइ बूथ संख्या 16 में 328 वोटरों ने मतदान किया. जिनमें से 191 ने भाजपा और 118 ने जेएमएम को मतदान किया.

adv

इसे भी पढ़ें – चतरा-लातेहार में पुलिस की कार्रवाई के बाद भी नहीं रुक रहा वसूली का खेल

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button