JamshedpurJharkhand

डॉ अजय और नक्सली की तथाकथित बातचीत की सीडी मामले में सरयू राय और दिनेशानंद गोस्वामी कोर्ट से बरी

Jamshedpur: झारखंड सरकार के मंत्री सरयू राय और भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ दिनेशानंद गोस्वामी को कोर्ट ने कांग्रेस नेता डॉक्टर अजय कुमार और नक्सली समर की तथाकथित बातचीत की सीडी जारी करने के मामले में बरी कर दिया है. जमशेदपुर जिला सिविल कोर्ट के सीजेएम ओंकार नाथ चौधरी ने दोनों को साक्ष्य के अभाव में बरी करने का फैसला सुनाया.

इसे भी पढ़ें – शर्मनाक: झारखंड के 2149550 लोगों के पास इनकम का कोई साधन नहीं, 61750 लोग मांगते हैं भीख

क्या है मामला

वर्ष 2011 में हुए जमशेदपुर में लोकसभा के उपचुनाव में सरयू राय और डॉ दिनेशानंद गोस्वामी ने उस समय झारखंड विकास मोर्चा के प्रत्याशी डॉ. अजय कुमार की नक्सली समर से तथाकथित बातचीत की सीडी जारी की थी. वर्ष 2011 के लोकसभा उपचुनाव में जमशेदपुर से डॉ अजय कुमार झारखंड विकास मोर्चा और भारतीय जनता पार्टी से डॉ दिनेशानंद गोस्वामी उम्मीदवार थे. मतदान के दिन सरयू राय और डॉ दिनेशानंद गोस्वामी ने प्रेस कांफ्रेंस बुला कर सीडी जारी की थी. दोनों नेताओं की ओर से यह बताया गया था कि डॉ अजय कुमार ने चुनाव जीतने के लिए नक्सली समर से बात की थी.

advt

इसे भी पढ़ें – झारखंड में शिक्षा का हाल : 58.7% युवा आबादी को नहीं आता है पढ़ना-लिखना

डॉ अजय ने किया था षडयंत्र रचने का केस

डॉ अजय कुमार ने सरयू राय और दिनेशानंद गोस्वामी के द्वारा जारी की गयी सीडी को फर्जी बताते हुए साकची थाना में उन दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. उनका कहना था कि षडयंत्र के तहत चुनाव को प्रभावित करने के लिए सीडी तैयार की गयी है. उन्होंने कहा था कि यह सीडी फर्जी है और चुनाव प्रभावित करने की कोशिश है. उनकी किसी नक्सली की बातचीत नहीं हुई है.

इसे भी पढ़ें – विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा,  दुनिया में बढ़ रहा राष्ट्रवाद, देश में कामकाज का तरीका बदलने की जरूरत

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button