lok sabha election 2019

मंगल पांडेय ने कहा- महागठबंधन में PM पद का उम्मीदवार स्पष्ट नहीं, बिन दूल्हे की बारात लेकर निकल गये हैं विपक्षी

Dhanbad: भारतीय जनता पार्टी के झारखण्ड प्रभारी मंगल पांडेय ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हेमन्त सोरेन, डॉ अजय कुमार समेत महागठबंधन के तमाम लोगों को बताना चाहिए कि महागठबंधन में पीएम पद का उम्मीदवार कौन होगा. देश की जनता यह जानना चाहती है.

जनता मूर्ख नहीं है. नेतृत्वकर्ता को जाने बगैर वोट नहीं देनेवाली है, महागठबंधन में नेतृत्वकर्ता का पता नहीं है. बिन दूल्हे के ही बारात लेकर निकल गए हैं.

एनडीए तो स्पष्ट कर दिया है कि नरेंद्र मोदी ही पीएम पद के उम्मीदवार होंगे. मंगलवार को मंगल पांडेय यहां इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स एसोसिएशन सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे.

advt

महागठबंधन में चल रहा सिर फुटव्वल

उन्होंने आगे कहा कि महागठबंधन में आपस में ही सिर फुटव्वल चल रहा है. एक-एक सीट को लेकर तू-तू मैं-मैं हो रही है. झारखण्ड में सीटों के बंटवारे के बाद भी उनकी संख्या स्पष्ट नहीं है. उनका यह गठबंधन न देश के विकास के लिए है और न ही जनता की भलाई के लिए, बल्कि अपनी राजनीतिक पहचान बनाने के लिए, अपनी अस्मिता को बचाने के लिए गठबंधन किया है.

इसे भी पढ़ें – सालभर में देश में ठनका से 3000 की मौत, अब वज्रपात को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की कवायद

शेष तीन सीट पर जल्द होगा निर्णय

उन्होंने कहा कि भाजपा झारखण्ड की 13 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. एक सीट पर एनडीए के तहत आजसू लड़ रही है. उन्होंने कहा बीजेपी दस सीटों पर स्थिति स्पष्ट कर चुकी है. शेष तीन सीट रांची, चतरा और कोडरमा के लिए केंद्रीय कमिटी निर्णय कर रही है. शीघ्र ही इसकी घोषणा कर दी जायेगी.

इसे भी पढ़ें – ‘माफ कीजिएगा मोदी जी, आंख पर पट्टी बांधकर आपकी चौकीदारी नहीं कर सकता’

adv

गिरिडीह सीट आजसू को देना केंद्रीय कमिटी का था निर्णय

गिरिडीह लोक सभा सीट आजसू को देने के सवाल पर उन्होंने कहा यह केंद्रीय कमिटी का निर्णय है. उन्होंने कहा यूपीए से कई लोग आज टूट कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं. इससे यह स्पष्ट है कि यूपीए के कई लोग भी यही चाहते हैं कि देश की कमान नरेंद्र मोदी ही संभालें. ऐसे सोच वाले आज भाजपा में शामिल हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – BJP के हमले पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- मोदी बताएं वह ‘न्याय’ योजना के पक्षधर या विरोधी

2014 से पूर्व विकास की गाड़ी थी बेपटरी

उन्होंने कहा कि 2014 से पूर्व देश में विकास की गाड़ी बेपटरी हो चुकी थी. 2014 के बाद नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विकास की गाड़ी को पटरी पर लाया गया. अब आगे भी पांच सालों तक विकास की गति तेज रहे इसके लिए नरेंद्र मोदी की सरकार का आना जरूरी है.

उन्होंने कहा कि झारखण्ड में डबल इंजन वाली सरकार है. आगे भी विकास की रफ़्तार को आगे लेकर जाये इसके लिए जनता को पीएम के पक्ष में वोट करना होगा. यहां से 14 कमल पीएम की झोली में देने की जरूरत है.

इसे भी पढ़ें – वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने तीन अपराधियों को देसी पिस्टल और कारतूस के साथ किया गिरफ्तार

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button