न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जेईई मेंस 2019 के दूसरे चरण की परीक्षा सात से 12 अप्रैल तक

जेईईमेन.एनआइसी.इन वेबसाइट से अभ्यर्थी कर सकते हैं एडमिट कार्ड डाउनलोड

246

Ranchi: जेईई मेंस 2019 के दूसरे चरण की परीक्षा सात से 12 अप्रैल तक देश भर के परीक्षा केंद्रों में होगी. जेईई मेंस के अभ्यर्थी अपना एडमिट कार्ड नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की वेबसाइट अथवा जेइइ.मेंस.2019 से डाउनलोड कर सकते हैं. 20 मार्च से यह सुविधा अभ्यर्थियों को दी गयी है. सात अप्रैल को कंप्यूटर आधारित परीक्षा के तहत भी आर्किटेक्चर विषय की परीक्षा होगी. वहीं आठ, नौ, दस और 12 अप्रैल को बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग के लिए परीक्षा ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें – झारखंड जनतांत्रिक महासभा गोड्डा, राजमहल, रांची और जमशेदपुर से लड़ेगी चुनावः महागठबंधन पर किया कटाक्ष

जनवरी में हुई थी पहले चरण की परीक्षा

hosp3

जनवरी में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की तरफ से पहले चरण की जेईई मेंस की परीक्षा ली गयी थी. इसके नतीजे 20 जनवरी को घोषित किये गये थे. अब दूसरे चरण की परीक्षा ली जायेगी. परीक्षा में सफल दो लाख अभ्यर्थियों को जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा. देश भर के आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी और नेशनल टेस्टिंग एजेंसी से संबद्ध इंजीनियरिंग कालेजों में दाखिले का अवसर जेईई मेंस 2019 के दोनों एग्जाम में शामिल होनेवाले विद्यार्थियों को उनकी रैंकिंग के आधार पर मिलेगा.

इसे भी पढ़ें – जंगल वनाश्रितों के लिए संसाधन नहीं, प्राकृतिक धरोहर है: सिमोन उरांव

एडमिट कार्ड में परीक्षा केंद्र समेत परीक्षा का समय भी अंकित

जेईई मेंस 2019 के लिए जारी किये गये एडमिट कार्ड में परीक्षा केंद्र के अवाला परीक्षा का समय, केंद्र की पूरी जानकारी और रिपोर्टिंग का समय दिया गया है. इसे सभी अभ्यर्थी अपना एप्लीकेशन नंबर अथवा डेट ऑफ बर्थ के हिसाब से डाउनलोड कर सकते हैं. परीक्षा के दिन और तय समय में एडमिट कार्ड और एक बॉल पेन ही केंद्र तक ले जाने की अनुमति होगी.

इसे भी पढ़ें – टीएसपी की राशि से बिरसा कृषि विश्वविद्यालय 10 जिलो में चलायेगा क्षमता परियोजना

रांची के दो केंद्रों में देते हैं 10 हजार परीक्षार्थी जेईई मेंस की परीक्षा

राजधानी रांची के टाटीसिलवे और तुपुदाना में 10 हजार परीक्षार्थी जेईई मेंस की परीक्षा में शामिल होते हैं. दो घंटे की कंप्यूटर आधारित परीक्षा में परीक्षार्थियों को उनके क्रमांक के अनुसार अलग-अलग दिनों में रिपोर्ट करने का निर्देश दिया जाता है.

इसे भी पढ़ें – अवैध संबंधों के कारण हुई थी शिवनारायण महली की हत्या

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: