न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक पर चुनाव आयोग की गाज गिरी, रिलीज पर रोक

ईसी ने चुनावी आचार संहिता लागू होने का हवाला देकर इस फिल्म पर रोक लगा दी.  

41

NewDelhi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक पीएम नरेंद्र मोदी  चुनाव आयोग (ईसी) ने  गाज गिरा दी है.  बता दें कि ईसी  10 अप्रैल,  बुधवार को  इस  बायोपिक पर रोक लगा दी है.  यह फिल्म 11 अप्रैल को रिलीज की जानी  थी.  ईसी ने चुनावी आचार संहिता लागू होने का हवाला देकर इस फिल्म पर रोक लगा दी.  आयोग के आदेश के अनुसार, चुनाव के समय वह ऐसी किसी फिल्म को दिखाने की मंजूरी नहीं देगा, जो किसी राजनीतिक दल या राजनेता के चुनावी हितों का पोषण करती हो.

जान लें कि ईसी के पास पीएम नरेंद्र मोदी, एनटीआर लक्ष्मी और उद्यमा सिंहम फिल्म को लेकर शिकायत दी गयी थी, जिस पर बुधवार को ईसी का फैसला आया. ईसी के ताजा फैसले से एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर स्टे लगाने से मना कर दिया था.  कोर्ट ने कहा था कि यह तय करना ईसी का काम है कि फिल्म किसी चुनावी पार्टी या व्यक्ति-विशेष का समर्थन करती है या नहीं.

इसे भी पढ़ेंः अल्पेश ठाकोर ने कांग्रेस को अलविदा कहा, भाजपा में जाने के कयास

फिल्म में मुख्य भूमिका विवेक ओबरॉय ने निभाई है

Related Posts

नवम सिद्धिदात्रीः भक्तों पर स्नेह लुटाती हैं मां

सिद्धगंधर्वयक्षादौर सुरैरमरै रवि.सेव्यमाना सदाभूयात सिद्धिदा सिद्धिदायनी॥

ईसी ने इस बाबत सूचना और प्रसारण मंत्रालय के साथ सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सीबीएफसी) को पत्र लिखा था. पत्र में कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज या फिर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली एक कमेटी बने , जो आचार संहिता के उल्लंघन के मसले पर सभी राजनीतिक इलेक्ट्रॉनिक सामग्री (फिल्में भी शामिल) की जांच करेगी. इस संबंध में  पूर्व में प्रोड्यूसर ने कहा था कि मुझे लगता है कि देश में किसी भी राजनीतिक दल को इससे समस्या नहीं होगी, क्योंकि ईसी, सीबीएफसी और सभी कोर्ट ने सारी याचिकाओं को खारिज कर दिया है और हमारी फिल्म भी रिलीज के लिए तैयार है.

हम उन सभी के शुक्रगुजार हैं, जिसने हमारी फिल्म के लिए प्रार्थनाएं कीं.   मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर बेंच ने भी इससे पहले फिल्म पर बैन लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया था.  माकपा सहित अन्य विपक्षी दलों की शिकायत पर ईसी ने बायोपिक को दिखाने की मंजूरी नहीं दी. शिकायत में कहा गया कि पीएम मोदी पर बनी बायोपिक को चुनाव के वक्त दिखाने का मकसद भाजपा को चुनावी फायदा पहुंचाना है.  ऐसे में चुनाव के दौरान इसकी स्क्रीनिंग की अनुमति देने से चुनाव आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन होगा.  फिल्म में मुख्य भूमिका विवेक ओबरॉय ने निभाई है.

इसे भी पढ़ेंः  हिटलर आज जिंदा होता, तो वह पीएम मोदी की करतूत देखकर खुदकुशी कर लेता : ममता

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: