न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आजम खान और मेनका गांधी के प्रचार करने पर भी चुनाव आयोग ने लगायी पाबंदी

883

New Delhi: चुनाव आयोग ने आज़म ख़ान और मेनका गांधी पर भी आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में सीमित समय तक प्रचार ना करने की पाबंदी लगा दी है. आज़म ख़ान पर जया प्रदा को लेकर की गई टिप्पणी के बाद चुनाव आयोग ने 72 घंटे तक प्रचार ना करने की पाबंदी लगाई है. वहीं मेनका गांधी पर भी सुल्तानपुर में मुसलमानों से वोट नहीं देने पर काम नहीं करने की बात पर चुनाव आयोग ने 48 घंटे तक प्रचार नहीं करने की पाबंदी लगाई है.

इसे भी पढ़ें – आयोग ने की कार्रवाई, भाजपा के फायरब्रांड योगी आदित्यनाथ तीन दिन व मायावती के दो दिन प्रचार करने पर रोक

सुप्रीम कोर्ट ने कहा था- कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा आयोग

चुनाव आयोग से सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वो कोई कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा है. सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद ही चुनाव आयोग ने यह कार्रवाई की है.

इसे भी पढ़ें – अरुण जेटली ने कहा, विपक्ष का तर्क गलत, राष्ट्रीय  सुरक्षा और आतंकवाद भी चुनावी बहस का विषय  

मैंने आचार संहिता का उल्लंघन नहीं कियाः मायावती

मायावती ने अपने प्रेस कांफ्रेस में कहा, “मैंने आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं किया है. मैंने अलग-अलग धर्मों के लोगों से वोट बांटने की अपील नहीं की थी. मैंने कहा था कि एक ही धर्म के मुस्लिम समाज के दो उम्मीदवारों में से एक उम्मीदवार के पक्ष में वोट करें.” “ये दो धर्मों के बीच नफरत फैलाने की बात में कतई नहीं आता है. अगर दो धर्म के उम्मीदवार होते तो ये बात समझ में आती है. लेकिन ऐसा नहीं था.”

मायावती ने अपने प्रेस कांफ्रेंस में मोदी पर आरोप लगाया कि वे लगातार सेना का नाम ले रहे हैं, जिस पर चुनाव आयोग की नजर नहीं जाती है. मायावती ने कहा, “चुनाव आयोग ने मेरे पर पाबंदी लगा दी है, योगी पर भी लगाई है लेकिन मोदी जी को क्यों नोटिस नहीं मिलता.”

इसे भी पढ़ें – टिकट नहीं मिला, तो नाराज  शकील अहमद ने राहुल को इस्तीफा भेजा, मधुबनी से निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like