न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

महिला ने पांच साल के बेटे के साथ की आत्महत्या, पति के अवैध संबंध का शक

आशीष नामक शख्स की दूसरी पत्नी थी बेहुला सोरेन, 2012 में हुई थी शादी

408

Giridih: जिले के पचंबा थाना क्षेत्र के बोड़ो में मां-बेटे के खुदकुशी से सनसनी है. बताया जा रहा है कि किराये के मकान में महिला ने अपने पांच वर्षीय बेटे के साथ एक ही फंदे में फांसी लगाकर जान दे दी. मामले की जांच स्थानीय प्रशासन और पचंबा पुलिस ने शुरु कर दी है. घटना के दूसरे दिन गुरुवार को पुलिस ने आत्महत्या का केस दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि बेहुला सौरेन (27 वर्षीय) आशीष मुर्मू की दूसरी पत्नी थी. पहली पत्नी से आशीष का तलाक साल 2009 में होने के बाद बेहुला से उसकी शादी साल 2012 में हुई थी.

इसे भी पढ़ेंःपलामूः नक्सली साजिश नाकाम, पलामू-लातेहार सीमा पर मिले पांच सिलेंडर बम

Aqua Spa Salon 5/02/2020

पति के अवैध संबंध का शक

पुलिस महिला और उसके बेटे के शव को बुधवार देर रात ही पचंबा थाना लेकर आयी थी. जहां गुरुवार की सुबह सदर एसडीएम राजेश प्रजापति ने महिला के पति और सास मैना देवी से पूछताछ की. एसडीएम और पचंबा थाना प्रभारी को आशीष मुर्मू का किसी के साथ अवैध संबंध होने का शक भी है. क्योंकि पति-पत्नी में विवाद का कारण पैसा ही था. डेढ़ माह पहले ही दोनों में पैसे को लेकर विवाद हुआ था. पूछताछ के बाद यह भी सामने आया कि घर की जरुरत के सारे पैसे आशीष कहीं और खर्च कर रहा था. हालांकि, आशीष ने आरोपों को गलत ठहराते हुए बताया कि जहां वह काम करता है. वहां से मजदूरी मिलने के बाद हर सप्ताह कभी 2 हजार तो कभी 4 हजार रुपये पत्नी को दिया करता था.

इसे भी पढ़ेंःहजारीबागः सुरक्षाबलों और टीपीसी में मुठभेड़, तीन नक्सली ढेर

पचंबा थाना पुलिस हर पहलु से मामले की जांच कर रही है. इधर मां-बेटे के शव को पंचबा थाना पुलिस पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. घटना के बाद पति आशीष मुर्मू के पास इतने भी पैसे नहीं थे, कि वह पत्नी और बेटे के शव को पोस्टमार्टम के बाद घर पहुंचवा सके. इसके बाद एसडीएम प्रजापति ने सिविल सर्जन को फोन कर दोनों के शव को आशीष मुर्मु के घर पहुंचाने का निर्देश दिया. जबकि आशीष बोड़ो निवासी उमेश राय के जिस मकान में रहा करता था, उसका किराया 1400 सौ देता था. यही नहीं आशीष अपने बेटे आदित्य को मोहनपुर स्थित हनी हॉली ट्रिनीटी स्कूल में पढ़ाया करता था.

महिला के मायकेवालों का इंतजार

इधर पचंबा थाना प्रभारी शर्मानंद सिंह ने बताया कि पुलिस मृतका के परिजनों के आने की प्रतीक्षा कर रही है. मां-बेटे के सुसाइड केस पर मृतका के मायके वाले क्या कहते हैं? साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ तौर पर कुछ कहा जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंःसाहेबगंजः आपस में भिड़े भाजपाई-जमकर हुई हाथापाई, देखें वीडियो

Sport House

आशीष मुर्मी मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के लहरढाब गांव का रहने वाला है. और बोड़ो में किराये के मकान में रहकर राजमिस्त्री का काम किया करता था. बेहुला सौरेन ने अपने बेटे आदित्य के साथ सुसाइड कब किया, यह अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है. लेकिन देर शाम करीब सात बजे जब आशीष घर लौटा. और दरवाजा खटखटाने पर भी महिला ने दरवाजा नहीं खोला, तो उसे अनहोनी की आशंका हुई. जिसके बाद उसने अपने एक रिश्तेदार को मामले की जानकारी दी. जिसके बाद मामले का खुलासा हुआ और पुलिस को इसकी सूचना दी की.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू कश्मीर: बस स्टैंड पर ग्रेनेड से हमला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like