न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ऐश्वर्या करती रही इंतजार, सबको चकमा दे तेज प्रताप निकल लिए वृंदावन

लेकिन फिलहाल वह कहीं गायब हो गए हैं. कहा जा रहा है कि तेज प्रताप सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर वृंदावन निकल गए है.

106

Patna : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव का तलाक मामला तुल पकड़ता जा रहा है. यह विवाद खत्म होने के बजाय बढ़ता जा रहा है. शायद इस उलझण को तेज प्रताप यादव भी सुलझाना नहीं चाहते हैं. खबरों की माने तो तेज प्रताप का इंतजार पटना में हो रहा था लेकिन फिलहाल वह कहीं गायब हो गए हैं. कहा जा रहा है कि तेज प्रताप सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर वृंदावन निकल गए है.

इसे भी पढ़ें : पटना पुलिस लाइन हिंसा मामला : बवाल मचाने वाले 92 पुलिसकर्मी स्थानांतरित

वृंदावन जाने की भनक सुरक्षाकर्मियों को तक नहीं

दरअसल रविवार को रांची स्थित रिम्स अस्पताल में अपने पिता लालू यादव से मिलकर पटना वापस जा रहे थे. अचानक बुखार और जलन से पीड़ित होने की बात कहकर तेज प्रताप बोधगया में ही में ही रुक गए. जब किसी कारण से होटल के उस कमरे का दरवाजा खोला गया जिसमें तेज प्रताप ठहरे हुए थे तो पता चला कि वे कमरे में नहीं हैं. कहीं गायब हो गए हैं. उनके वृंदावन जाने की भनक सुरक्षाकर्मियों को तक भी नहीं हुई.

इसे भी पढ़ें :  कुशवाहा का नीतीश पर पलटवारः पूछा उनकी डीएनए रिपोर्ट आयी या नहीं

पत्नी कर रही थी इंतजार

लालू परिवार के करीबीयों का कहना है कि पटना में तेज की मां राबड़ी देवी, पत्नी ऐश्वर्या राय और भाई तेजस्वी यादव वगैरह इंतजार ही करते रह गए. इससे यह कहना आसान हो गया है कि तेज प्रताप खुद ही इस उलझण को सुलझाना नहीं चाहते हैं.

जाने क्या है मामला

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के सबसे बड़े बेटे तेजप्रताप यादव अपनी शादी के 6 महीने के अंदर ही पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दे चुके हैं. राजद विधायक तेजप्रताप यादव ने कहा कि वह अपने अपने पिता और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बात नहीं मानेंगे वाले हैं.

इसे भी पढ़ें : मेरे परिवारवालों ने मुझे नकार दिया, मैं घुट-घुटकर नहीं जी सकता : तेजप्रताप

तेजप्रताप ने कहा कि मेरे मां-बाप, भाई-बहन, पुरा परिवार सबने मुझे नकार दिया, सब ऐश्वर्या के साथ ही खड़े हैं. उन्होंने आगे कहा कि मेरे साथ मेरे परिवार का कोई नहीं खड़ा है. सब ऐश्वर्या के पक्ष में हैं. हालांकि, वह अपना इरादा नहीं बदलेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: