न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देखें वीडियोः कैसे गिड़गिड़ाती रही मां और महिला पुलिसकर्मी ने दिया धक्का, ईगो में बेटे को भेजा जेल

786

Dhanbad: ‌एक वीडियो वायरल है. इसमें भाजपा नेता दिलीप सिंह, उनकी पत्नी, बाइक चेकिंग के दौरान पकड़ा गया उनका बेटा रवि, भतीजा सूरज सरायढेला थाना में जमादार ममता कुमारी के सामने रो-गिड़गिड़ा रहे हैं. लड़के की मां महिला पुलिसकर्मी ममता के पैर पकड़ रही है. ममता रवि की मां को धक्का दे रही है. उसे वहां से हटाने को कह रही है. कह रही है, जो भी हो जाए लड़के को जेल भेज कर ही रहेंगे. नहीं तो हम सुसाइड कर लेंगे. वीडियो में साफ सुना और देख जा सकता है कि ममता कुमारी थाना प्रभारी पर भी आरोप लगा रही हैं. कह रही हैं कि कितना पैसा लिया है थाना प्रभारी कि वो लड़कों को छोड़ने की पैरवी कर रहे हैं. बार-बार सुसाइड करने की धमकी दे रही हैं. ममता का आरोप है कि छात्रों ने पकड़े जाने पर गोली मारने की धमकी थी. हालांकि, कोई बंदूक-गोली नहीं मिली. पहले तो दोनों छात्रों को थाने से छोड़ दिया गया उसके बाद गैर जमानतीय धारा 503-504 लगा कर जेल भेज दिया गया.

देखें वीडियो कैसे गिड़गिड़ाती रही मां और महिला पुलिसकर्मी ने एक नहीं सुनी

और इधर खुलेआम चलायी गोली फिर भी नहीं हुई कोई कार्रवाई

गोली चलाने का यह मामला धनसार थाने का है. दीपावली के समय यह घटना हुई थी. तब धनसार थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर लक्ष्मण राम से कार्रवाई के संबंध में न्यूज विंग ने पूछा था तो बताया था कि संजय सिन्हा के आग्नेयास्त्र जब्त कर लिए गये हैं. बाद में दूसरे अखबारों और मीडिया में खबर आयी कि संजय सिन्हा का सिर्फ राइफल जब्त किया गया है. संजय सिन्हा ने विवेक के कमर में खोंसे गये माऊजर को खिलौना बताया. कहा, राइफल को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है. धनबाद के मेजर फोरेंसिक जांच कर बताएंगे कि राइफल से अभी हाल में गोली चली है या नहीं.

गुरुवार को जब इस मामले में अब तक हुई कार्रवाई के संबंध में इंस्पेक्टर लक्ष्मण राम से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेजर ने राइफल की अभी तक फारेंसिक जांच नहीं की है. मामले को लेकर अभी तक एफआइआर भी नहीं की गयी है. यह कहने पर कि विवेक के हाथ में टेलीस्कोपिक राइफल के साथ बंदूक एक फोटो में है. वीडियो में उसकी कमर में माऊजर खोंसा हुआ नजर आ रहा है? इंस्पेक्टर ने कहा कि वह खिलौना था. इसकी जांच किसने की? इंस्पेक्टर ने कहा, पुलिस पदाधिकारियों और डीएसपी ने.

इसे भी पढ़ें – ‘सरकार पारा शिक्षकों की समस्या का करें समाधान, नहीं तो हम छोड़ देंगे पढ़ाई’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: