न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

IAS सुधीर त्रिपाठी हो सकते हैं जेपीएससी के नए चेयरमैन, डीके तिवारी सीएस रेस में सबसे आगे, नोटिफिकेशन जल्द!

2,068

Akshay/Ravi

Ranchi: कौन बनेगा झारखंड का नया सीएस. इस सवाल से अब लगभग पर्दा उठ चुका है. कन्फर्म सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि वर्तमान सीएस सुधीर त्रिपाठी को जेपीएससी का चेयरमैन बनाया जा रहा है.

सीएमओ से इस हवाले सारी औपचारिकताएं पूरी कर ली गयी हैं. वहीं सीएस की रेस में सबसे आगे डीके तिवारी चल रहे हैं. उनका नाम भी कन्फर्म बताया जा रहा है. बुधवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक के बाद सरकार की तरफ से नोटिफिकेशन जारी करने की पूरी उम्मीद है.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में महागठबंधन टूटा, सुभाष यादव को राजद ने चतरा से बनाया उम्मीदवार

बताते चलें कि सीएस सुधीर त्रिपाठी को दो बार बतौर सीएस एक्सटेंशन मिल चुका था. उनका कार्यकाल 31 मार्च को खत्म हो रहा है. उन्हें पहला एक्सटेंशन 31 दिसंबर 2018 तक के लिए मिला था.

दूसरा एक्सटेंशन 31 मार्च 2019 तक के लिए मिला है. अब त्रिपाठी को तीसरा एक्सटेंशन नहीं मिलना तय है. ऐसे में अब राज्य को नया मुख्य सचिव मिलेगा.

इसे भी पढ़ेंःअर्जुन मुंडा के लिए कटीली है खूंटी की राह, कई चुनौतियों से होना होगा दो-चार

SMILE

झारखंड कैडर के सीएस रैंक के अधिकारी जो केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं

राजीव गौबा: 1982 बैच: केंद्रीय प्रतिनियुक्ति (रिटायरमेंट- 31-08-2019)
राजीव कुमार: 1984 बैच- केंद्रीय प्रतिनियुक्ति (रिटायरमेंट: 28-02-2020)
अमित खरे: 1985 बैच- केंद्रीय प्रतिनियुक्ति (रिटायरमेंट: 30-09-2021)
एनएन सिन्हा: 1987 बैच- केंद्रीय प्रतिनियुक्ति (रिटायरमेंट: 31-07-2024)
अलका तिवारी: 1988 बैच- केंद्रीय प्रतिनियुक्ति (रिटायरमेंट: 30-09-2025)

झारखंड में पदस्थापित ये हैं सीएस रैंक के अधिकारी

सुधीर त्रिपाठी: 1985 बैच (31 मार्च को कार्यकाल समाप्त)
बीके त्रिपाठी: 1983 बैच (रिटायरमेंट: 31-08-2019)
डीके तिवारी: 1986 बैच (रिटायरमेंट: 31-03-2020)
इंदू शेखर चतुर्वेदी: 1987 बैच (रिटायरमेंट: 31-10-2022)
सुखदेव सिंह: 1987 बैच (रिटायरमेंट:31-03-2024)
अरूण सिंह: 1988 बैच (रिटायरमेंट: 31-12-2023)
केके खंडेलवाल: 1988 बैच (रिटायरमेंट: 31-07-2022)
एल खियांग्यते: 1988 बैच (रिटायरमेंट: 31-10-2024)

इसे भी पढ़ेंःमहिला जिप सदस्य ने मंत्री रणधीर सिंह पर लगाया थप्पड़ मारने का आरोप, मंत्री बोले आरोप लगाना आम बात, देखें वीडियो

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: