JharkhandLead NewsNEWSRanchi

गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड पुलिस को दी बधाई, कहा-आतंकवाद, माओवादियों के खिलाफ जारी रहेगी जीरो टॉलरेंस की नीति

Ranchi : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड पुलिस को बधाई दी है. पहली बार बुढ़ा पहाड़ में झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ के द्वारा उग्रवादियों के खिलाफ पिछले दिनों चलाए विशेष अभियान और मिली सफलता पर खुशी जताई है. ट्विटर पर इसके लिए झारखंड पुलिस, सीआरपीएफ के अलावा दूसरे राज्यों में भी आतंकवादियों, नक्सलियों, माओवादियों के खिलाफ विशेष अभियान में मिली सफलता का क्रेडिट स्थानीय पुलिस को दिया है. कहा है कि देश की आंतरिक सुरक्षा में एक ऐतिहासिक पड़ाव पार हुआ है.

पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देशभर में वामपंथी उग्रवाद के विरुद्ध चल रही निर्णायक लड़ाई में सुरक्षाबलों ने अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की है. इसके लिए सीआरपीएफ, सुरक्षा एजेंसियों व राज्य पुलिसबलों को वे बधाई देते हैं. पहली बार बूढा पहाड़, चक्रबंधा व भीमबांध के दुर्गम क्षेत्रों से माओवादियों को सफलतापूर्वक निकालकर सुरक्षाबलों के स्थायी कैंप स्थापित किये गए हैं. पीएम मोदी के नेतृत्व में आतंकवाद व LWE के विरुद्ध गृह मंत्रालय की जीरो टॉलेरेंस की नीति जारी रहेगी. ये लड़ाई आगे और तेज होगी.

शीर्ष माओवादियों के गढ़ में महीनों तक चले इन अभियानों में सुरक्षा बलों को अप्रत्याशित सफलता प्राप्त हुई, जिसमें 14 माओवादियों को मार गिराया गया. 590 से अधिक की गिरफ्तारी/आत्मसमर्पण हुआ. इसमें लाखों-करोड़ों के ईनामी माओवादी मिथिलेश महतो को पकड़ा गया. उस पर 1करोड़ रुपये का इनाम था.

ऑपरेशन “OCTOPUS” से सफलता

गौरतलब है कि पिछले दिनों (18 सितम्बर) झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा बूढ़ा पहाड़ पहुंचे थे. इस दौरान झारखंड पुलिस एवं सीआरपीएफ के जांबाज जवानों को सम्मानित किया था. इस दौरान उनके साथ संजय आनंद लाटकर (एडीजी अभियान), अमित कुमार (आईजी सीआरपीएफ), अमोल वी होमकर (आईजी अभियान) और शिवानी तिवारी (एसपी) भी बूढ़ा पहाड़ कैंप पहुंचे थे. दिलेर सुरक्षाबलों को सम्मानित कर उनका हौसला बढाने के अलावा इलाके के ग्रामीणों से संपर्क साधा था. उनके बीच धोती, साड़ी, छाता इत्यादि का वितरण किया.

इस दौरान कहा कि बुढ़ा पहाड़ में चलाया गया ऑपरेशन “OCTOPUS” कारगर साबित हुआ है. राज्य में उग्रवादियों के लिए कोई जगह नहीं, चौतरफा प्रहार और तेज होगा. ऐसे प्रभावी ऑपरेशन चलाए जाने से उग्रवादियों की यहां कमर टूटी है. इससे ग्रामीणों के बीच हर्ष का माहौल है. भय और आतंक का साम्राज्य खत्म हुआ है.

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज करेंगे पुलिस के कामकाज की समीक्षा, इन मुद्दों पर होगी बात

Related Articles

Back to top button