JharkhandMain SliderRanchi

अमित शाह की मौजूदगी में बाबूलाल मरांडी भाजपा में हुए शामिल

Ranchi: भाजपा के पूर्व अध्यक्ष गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में बाबूलाल मरांडी भाजपा में शामिल हुए. अमित शाह ने बाबूलाल मरांडी को माला पहना कर पार्टी में स्वागत किया. बाबूलाल मरांडी के साथ झाविमो के सभी पदाधिकारी भी भाजपा में शामिल हुए.

ट्विटर पर चल रही है झारखंड सरकार: बाबूलाल मरांडी

बाबूलाल मरांडी ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि डेढ़ महीने से झारखंड सरकार ट्विटर पर चल रही है. सीएम कह रहे हैं कि खजाना खाली है. हेमंत सरकार को चाहिए कि झारखंड में बेरोजगारी, गरीबी और भुखमरी को हटाने के लिए काम करे.

इसे भी पढ़ें – जब योगेंद्र साव थे वांटेड तब उनसे मिले थे रघुवर, बतौर सीएम और गृहमंत्री क्या ये आपराधिक मामला नहीं?

advt

उन्होंने कहा कि भाजपा ने योजनाओं के जरिए किसानों को आर्थिक मदद देने का काम किया है लेकिन इन योजनाओं को हेमंत सरकार खत्म करने की बात कह रही है. प्रदेश में रोज हत्या हो रही है, उग्रवाद सिर उठा रहा है. सरकार से आम लोगों की इच्छा अमन-चैन की होती है. ऐसा नहीं होगा तो राज्य कभी प्रगति नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि जब देश की अधिकतर राजनीतिक पार्टियां परिवारवाद में सिमटी हैं, तो ऐसे में स्वाभाविक रूप से मेरी पसंद विचारधारावाली पार्टी भाजपा रही. इसलिए मैं भाजपा में आया.

मंच पर उपस्थित अमित शाह, बाबूलाल मरांडी, ओम माथुर, अर्जुन मुंडा, रघुवर दास, कड़िया मुंडा, लक्ष्मण गिलुआ व अन्य.

झाविमो के विलय के सूत्रधार बने ओमप्रकाश माथुर

रांची के प्रभात तारा मैदान में झाविमो के भाजपा में विलय समारोह को संबोधित करते हुए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हम कहीं गये नहीं थे. भाजपा से अलग होने के बाद राज्य का हर कोना घूमा. इन 14 सालो में लगभग छह से सात लाख किमी झारखंड की यात्रा कर समझा, जनता की तकलीफ को देखा. भाजपा में लाने का प्रयास पार्टी की ओर से कई बार किया गया. 2014 में जब लोकसभा और विधानसभा के चुनाव में हमें हार मिली. उस समय भी भाजपा में लाने का प्रयास हुआ. इस बार विलय का सूत्रधार ओम प्रकाश मथुर बने. मैंने अपने राजनीति जीवन की शुरूआत 1990 में की. इस दैरान पार्टी से कभी कोई पद की मांग नहीं की. पार्टी जो भी काम देगी, उसे ईमानदारी से पूरा करूंगा चाहे वह झाड़ू लगाने का काम ही क्यों न हो.

इसे भी पढ़ें – पूर्व DGP आवास केसः कार्रवाई करने में जिला प्रशासन नहीं कर रहा सरकारी आदेश का पालन इसलिए हो रही देरी 

भाजपा प्रदेश की जनता के लिए सदन से लेकर संसद तक संघर्ष करेगी: अमित शाह

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कई साल के बाद बाबूलाल मरांडी ने फिर से भाजपा अपने घर में आये हैं. भाजपा और पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से मैं बाबूलाल मरांडी और उनके कार्यकर्ताओं का स्वागत करता हूं और विश्वास दिलाता हूं कि आपको कभी नहीं महसूस होगा कि आप बाहर से यहां आये हैं.

उन्होंने कहा कि कुछ कारणों से बाबूलाल मरांडी भाजपा छोड़ गये थे. सत्ता के बगैर कैसे रहा जा सकता है, ये बाबूलाल ने दिखा दिया. मैं भाजपा का अध्यक्ष बनने के बाद 2014 से ही प्रयास कर रहा था कि बाबूलाल मरांडी पार्टी में आ जायें. बाबूलाल थोड़े जिद्दी हैं, नहीं माने. लेकिन अब हम सभी की इच्छा के अनुसार वो भाजपा में आ गये हैं. उनके आने से पार्टी और स्थानीय नेतृत्व की ताकत बढ़ेगी.

अमित शाह ने कहा कि सत्ता में रहने के दौरान जो काम भाजपा ने किया, विपक्ष में रहते उससे ज्यादा काम पार्टी करेगी. उन्होंने कहा कि चाईबासा घटना की रिपोर्ट मुझे मिली है, ऐसी हत्या मैंने अपने जीवन में नहीं देखी. इस संबंध में प्रदेश सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की. ऐसा ही चलता रहा तो प्रदेश की जनता के लिए भाजपा सदन से लेकर संसद तक संघर्ष करेगी.

प्रभात आरा मैदान में आयोजित मिलन समारोह में भाजपा के वरिष्ठ नेता केन्द्रीय उपाघ्यक्ष ओम माथुर, रामविचार नेताम, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, कड़िया मुंडा, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र राय, प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा, पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास सहित भाजपा के सांसद, विधायक एवं पदाधिकारी भी समारोह में मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें – #Shaheen_Bagh_Protest : सुप्रीम कोर्ट ने कहा, विरोध के नाम पर सड़क जाम नहीं कर सकते, अगली सुनवाई 24 फरवरी को

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: