Crime NewsJamshedpurJharkhand

राहत की बात – झारखंड में 2020 के मुकाबले दुष्कर्म की घटनाओं में 7 फीसदी की कमी, कोल्हान में भी 15% मामले कम हुए

2021 में सितंबर तक दुष्कर्म के 1261 मामले दर्ज हुए, 2020 में इसी समयावधि में कुल 1359 मामले रिपोर्ट हुए थे

Raj Kishore

Jamshedpur : झारखंड राज्य में पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष दुष्कर्म की घटनाओं में कमी आयी है. इस साल के जनवरी महीने से लेकर सितंबर महीने तक की बात करें, तो पूरे राज्य में दुष्कर्म की 1261 घटनाएं घटी हैं. इसके मुकाबले पिछले वर्ष (2020) में जनवरी महीने से लेकर सितंबर महीने तक राज्य भर में दुष्कर्म की 1359 घटनाएं घटी थीं. यानी, इस समयावधि में पूरे राज्य में घटित दुष्कर्म की घटनाओं की तुलना करें तो इस साल दुष्कर्म की  घटनाओं में 7.2 प्रतिशत की कमी आयी है. अगर कोल्हान की बात करें, तो हालात राज्य के मुकाबले काफी बेहतर हुए हैं और कोल्हान में 2020 में दर्ज 182 दुष्कर्म के मामलों के बनिस्पत 2021 में 156 मामले मामसे दर्ज हुए हैं. यानी 14.75 फीसदी की कमी दर्ज की गयी है. हालांकि कोल्हान के तीन जिलों में सरायकेला-खरसावां ऐसा जिला है, जहां पिछले वर्ष के अनुपात में दुष्कर्म की ज्यादा घटनाएं घटी हैं.

यह आंकड़े झारखंड पुलिस के आधिकारिक वेबसाइट से लिये गये हैं.

Catalyst IAS
ram janam hospital

जिला                       2020          2021 
रांची                         158           158
पूर्वी सिंहभूम               85             74
सरायकेला-खरसावां     19             29
पश्चिम सिंहभूम            78             53
राज्य भर में कुल       1359        1261 

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

राजधानी रांची में पिछले साल की तरह ही हालत

राजधानी रांची के दुष्कर्म के आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले साल की तरह ही इस साल भी अब तक हालात हैं. पिछले वर्ष जनवरी महीने से सितंबर तक राजधानी दुष्कर्म की 158 घटनाएं घटी थी. वहीं इस वर्ष भी जनवरी से सितंबर तक राजधानी में दुष्कर्म की 158 घटनाएं ही सामने आई है.

सरायकेला में मामले बढ़े- पूर्वी और पश्चिमी सिंहभूम में घटे

कोल्हान के तीनों जिलों पूर्वी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां और पश्चिम सिंहभूम में पिछले साल के मुकाबले दुष्कर्म की घटनाओं में कमी आई है. पिछले साल कोल्हान भर में जनवरी से लेकर सितंबर महीने तक दुष्कर्म की 182 घटनाएं घटी थी, जबकि इस वर्ष जनवरी से सितंबर महीने तक कोल्हान के तीनों जिलों को मिलाकर दुष्कर्म की 156 घटनाएं घटी हैं. यानी करीब 15 प्रतिशत की कमी इस दौरान दर्ज की गयी. आंकड़ों के लिहाज से पिछले साल के जनवरी महीने से लेकर सितंबर महीने तक पूर्वी सिंहभूम जिले में दुष्कर्म की 85 घटनाएं घटी थी. उस लिहाज से देखें तो इस साल इतने ही समयावधि में जिले में दुष्कर्म की 74 घटनाएं दर्ज की गयी हैं.  हालांकि सरायकेला में दुष्कर्म के मामलों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है. यहां 2020 में 19 मामले थानों तक पहुंचे थे, जबकि इस साल सितंबर माह तक 29 मामले थानों में दर्ज किये गये हैं. हालांकि पश्चिमी सिंहभूम में दुष्कर्म की वारदातों में काफी कमी दर्ज की गयी है. पिछले साल 78 मामले पुलिस के पास पहुंचे थे. इस वर्ष इनकी संख्या 53 है.

इसे भी पढ़ें –   यौन शोषण में सात साल की सजा काटकर आया था, अब छह साल की बच्ची से अश्लील हरकत में गया जेल

 

Related Articles

Back to top button