Crime NewsJamshedpurJharkhand

Jamshedpur Crime : नरसिंहपुर गांव की दो सबर महिलाओं की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, ग्रामीणों की रजामंदी से शवों को नीरापहाड़ में दफनाया

Ghatshila : गालूडीह थाना क्षेत्र के नरसिंहपुर गांव की दो सबर महिलाओं की मौत नहर में संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई. इसकी जानकारी महिलाओं के परिजन को शनिवार को हुई. इसके बाद ग्रामीणों की रजामंदी से शवों को गांव के जंगल नीरापहाड़ में दफना दिया गया. इसकी जानकारी पुलिस प्रशासन को छह घंटे बाद मिली, तो प्रशासन के हाथ-पांव फूल गये.

कार्यपालक दंडाधिकारी नियुक्त कर निकाला गये शव
इधर, आनन-फानन में प्रशासन ने दफनाएं गये शवों को निकालने के लिए कार्यपालक दंडाधिकारी के रूप में जयप्रकाश करमाली को नियुक्त किया. इसके बाद पुलिस व प्रशासनिक टीम नरसिंहपुर गांव पहुंची तथा एक मृतक महिला के पति से मामले की जानकारी ली. इसके बाद दफनाएं गये शवों को बाहर निकालने को कहा. ग्रामीण शव को नहीं निकालना चाह रहे थे, लेकिन प्रशासनिक दबाव और पंचायत प्रतिनिधियों के समझाने पर ग्रामीणों ने शवों को निकालने दिया. बाद में दफनाएं गये शवों को खोदकर शाम के चार बजे निकाला गया. इन शवों को प्रशासन की देखरेख में एमजीएम मेडिकल कॉलेज पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

क्या हैं पूरा मामला
घटना के संबंध में जानकारी देते हुए मृतक सुंदरी सबर (60) के पति विश्वनाथ सबर ने बताया कि वे शुक्रवार की सुबह काम करने बाहर गये थे. शाम को घर आकर देखा, तो पाया कि उनकी पत्नी सुंदरी व चेपी सबर (58) दोनों घर पर नहीं है. एक घंटे के बाद भी जब वे दोनों नहीं आए, तो विश्वनाथ ने उनकी खोजबीन प्रारंभ कर दी. विश्वनाथ ने बताया कि चेपी उनकी पत्नी की बहन है. रात 10 बजे तक इनकी खोज की गई, लेकिन कहीं से उनका कोई सुराग नही मिला. इसके बाद विश्वनाथ भी घर में आकर सो गया. सुबह जब उठा, तो नदीनुमा नहर किनारे शौच करने गया. तब वहां दो शवों को तैरता पाया. विश्वनाथ ने ग्रामीणों को इसकी जानकारी दी. इसके बाद ग्रामीण पहुंचे तथा चार-पांच लोग नहर में घुसे और शवों को पलटी किया गया, तो पाया कि ये तो सुंदरी व चेपी है. इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी जानकारी मृतकों के भाई को दी. भाई नरसिंहपुर गांव पहुंचे तथा आपसी सहमति से शवों को दफना दिया. इसकी जानकारी मुखिया बबिता सिंह को भी थी. बाद में मामले की जानकारी दोपहर 2 बजे प्रशासन को हुई, तब प्रशासनिक महकमा हरकत में आया. जिसके बाद दफनाएं गये दोनों शवों को बाहर निकाला गया.

SIP abacus

ये भी पढ़ें- Jamshedpur : #JUSTICE FOR RAHUL राहुल अग्रवाल को न्याय दिलाने के लिए परिजनों ने मारवाड़ी समाज के साथ साकची में निकाला कैंडर मार्च

Sanjeevani
MDLM

Related Articles

Back to top button