Palamu

पलामू की दीप ज्योति ने #KBC में जीते 25 लाख, 50 लाख के सवाल पर कन्फ्यूज हो क्वीट किया गेम

Palamu: पलामू की बेटी दीप ज्योति ने कौन बनेगा करोड़पति में 25 लाख रूपये का इनाम जीता है. जिला मुख्यालय मेदिनीनगर में गरीब परिवार से आने वाली दीप ज्योति ने यह कारनामा कर सबको हैरत में डाल दिया है.

गरीबी और विपरीत परिस्थति के बावजूद दीप ज्योति ने मेदिनीनगर से मुंबई में केबीसी तक का सफर तय किया है और यह साबित कर दिया है कि अगर कुछ करने का जज्बा हो तो परेशानियां आड़े नहीं आती.

इसे भी पढ़ेंःविस्थापित ग्रामीण संचालन समिति के नाम पर अशोका, पिपरवार एवं पुरनाडीह कोल परियोजना में टीपीसी वसूल रही लेवी

Catalyst IAS
ram janam hospital

13 सवालों के जवाब देकर जीती 25 लाख की रकम

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

19 साल की डीजे उर्फ दीपज्योति ने कौन बनेगा करोड़पति में 13 सवालों का जवाब देकर 25 लाख रुपए जीता. दीप ज्योति ने 13 सवालों के सही जवाब दिए. 14वें सवाल पर अटकने के बाद उन्होंने गेम छोड़ दिया.

दीपज्योति ने कहा-अमिताभ सर के साथ हॉट सीट पर बैठने का मौका मिला. यह मेरे जीवन का सबसे बड़ा दिन था. मैं कई सवालों का जवाब जानती थी, लेकिन अमिताभ सर को देखकर भूल गई.

14 साल से नहीं है पिता का साथ

मुंबई से लौटने के बाद दीपज्योति से न्यूजविंग से बात करते हुए बताया कि उसके पिता विजय कुमार बिजनेसमैन थे. उन्हें बिजनेस में काफी नुकसान हो गया था.

इसे भी पढ़ेंः#SBI ने 220 लोगों के 76,600 करोड़ रुपये का बैड लोन राइट ऑफ कर दिया!

इससे घबराकर वे 14 वर्ष पहले 2005 में घर छोड़कर चले गए. उस वक्त मैं बहुत छोटी थी. बड़े भाई मोहित कुमार, बड़ी बहन दीप शिखा और मां गीता देवी ने उनकी परवरिश की. पिता के कर्ज के कारण दुकान बेचनी पड़ी.

2013 में भाई की हुई हत्या

दीपज्योति की मां ने सिलाई-कढ़ाई कर घर संभाला. दीपज्योति का परिवार संघर्ष के दौर से गुजर रहा था, इसी बीच 2013 में भाई मोहित की हत्या हो गई.

पिता के बाद मां का आखिरी सहारा भी उनसे छीन लिया गया था. उस वक्त दीपज्योति जवाहर नवोदय विद्यालय मेदिनीनगर में पढ़ती थी. दीपज्योति फिलहाल नीलांबर-पीतांबर यूनिवर्सिटी के जीएलए कॉलेज से जूलॉजी पार्ट दो की परीक्षा दे चुकी हूं. अपनी मां की मदद के लिए वो बच्चों को पढ़ाती भी है.

अपने नाम को सार्थक कर दिखाया है दीपज्योति ने: DPRO

पलामू के जनसंपर्क पदाधिकारी देवेंद्र नाथ भादुड़ी ने दीपज्योति को उसकी सफलता पर जिला प्रशासन की ओर से बधाई दी है. उन्होंने कहा कि दीप ज्योति ने अपने नाम को सार्थक कर दिया.
दीप से निकले हुए ज्ञान की ज्योति से उसने केबीसी में सफलता पाई.

अपनी आर्थिक स्थिति को सुधारने में उसे 25 लाख की राशि से बड़ी मदद मिलेगी. साथ ही स्थानीय नेताओं ने भी 19 साल की पलामू की ज्योति की सफलता पर बधाई देते हुए कहा कि दीप ज्योति की सफलता से पलामू एवं झारखंड का नाम रोशन हुआ है.

इसे भी पढ़ेंःसरकारी दावा झारखंड #ODF: गुमला ने पूरा किया 90% टारगेट लेकिन निर्माण के नाम पर एक करोड़ का घोटाला

Related Articles

Back to top button