न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिराज के बयान पर सियासत गरम, जेडीयू का पलटवार- नीतीश को नसीहत देने की हैसियत नहीं

जेडीयू प्रवक्ता ने कहा हिन्दू का मतलब हिंसा नहीं, संविधान ने सभी को समान अधिकार दिया है

714

Patna: इफ्तार पार्टी को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के नीतीश कुमार पर दिये बयान पर बिहार की सियासत गरम है. हालांकि, बयान को लेकर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने गिरिराज सिंह को फटकार लगायी है. लेकिन बयान से जेडीयू खासा नाराज दिख रहा.

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के कटाक्ष पर मंगलवार को जदयू ने पलटवार करते हुए कहा कि उनकी इतनी हैसियत ही नहीं है कि वह हमारे नेता नीतीश कुमार को कोई नसीहत दें.

क्या कहा था गिरिराज सिंह ने

गिरिराज ने मंगलवार को लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी की इफ्तार दावत, जिसमें नीतीश भी शामिल हुए थे.

इसे भी पढ़ेंःवायुसेना के लापता विमान का अबतक नहीं कोई सुराग, खराब मौसम के कारण सर्च ऑपरेशन प्रभावित

उसकी तथा जदयू की इफ्तार दावत की तस्वीरों को ट्विटर पर डालने के साथ यह कहा है कि कितनी खूबसूरत तस्वीर होती जब इतनी ही चाहत से नवरात्रि पे फलाहार का आयोजन करते और सुंदर सुदंर फ़ोटो आते??…अपने कर्म धर्म में हम पिछड़ क्यों जाते और दिखावा में आगे रहते है?

नीतीश को नसीहत देने की हैसियत नहीं- अशोक चौधरी

गिरिराज के इस कटाक्ष पर जदयू के वरिष्ठ नेता और भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा है कि उनकी इतनी हैसियत ही नहीं है कि वह हमारे नेता नीतीश कुमार को कोई नसीहत दें.

उन्होंने कहा कि यह वही गिरिराज सिंह हैं जो चुनाव के वक्त नीतीश जी को 10 बार फोन करते थे और अपने पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए आग्रह किया करते थे. चौधरी ने कहा कि आज वह जो 4.5 लाख वोट से जीतकर संसद पहुंचे है और मंत्री बने हैं वह नीतीश कुमार की ही देन है.

SMILE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में माकूल जगह का ऑफर नहीं मिलने से भाजपा से जदयू के नाराज होने की चर्चा के बीच चौधरी ने गिरिराज पर अपने को हिन्दू समुदाय का बड़ा नेता बताने के चक्कर में कुछ भी अनाप-शनाप बयानबाजी करने की आदत होने का आरोप लगाया.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक : पति-पत्नी दोनों हैं पारा शिक्षक, मानदेय के अभाव में नहीं करा पा रहे बेटी का इलाज

हिन्दू का मतलब हिंसा नहीं- संजय सिंह

जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने ट्वीट किया कि गिरिराज सिंह जी, हिन्दू का मतलब हिंसा नहीं होता है. हम ढोंग नहीं करते हैं और ना ही हमें झूठा दिखावा करना पड़ता है. “मंदिर वहीं बनाएंगें लेकिन तारीख नहीं बताएंगें” यह नारा हमें नहीं देना पड़ता है. देश उन्माद से नहीं चलता है. ऐसा बयान कोई मानसिक तौर पर बीमार व्यक्ति ही दे सकता है.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि भारत दुनिया का सबसे खूबसूरत देश इसलिए है, क्योंकि यहां सभी धर्म और संप्रदाय को मानने वालों को संविधान ने समान अधिकार दिया है. हम देवी दुर्गा की आराधना में फलाहार भी करते हैं और रमजान के महीने में इफ़्तार भी. सर्व धर्म समभाव से सुंदर तस्वीर क्या होगी?

सिंह ने ट्वीट किया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपने संसदीय दल की बैठक में कहा था कि वह अपने दल के ऐसे नेताओं पर लगाम लगायेंगें, जो नफरत और उन्माद की भाषा बोलेंगे. अब वक्त आ गया है कि गिरिराज सिंह के ऐसे बयानों को गंभीरतापूर्वक लेते हुए भाजपा नेतृत्व कार्रवाई करे.

इसे भी पढ़ेंःचुनावी बॉन्ड : EC को BJP, कांग्रेस सहित अन्य दलों ने अब तक नहीं दिया चंदे का ब्यौरा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: