Main SliderRanchi

JPSC मुख्य परीक्षा की कॉपियों की जांच लटकी, महज पांच प्रोफेसर जांचने को हैं तैयार

विज्ञापन

Ranchi : जेपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा की कॉपियां सात महीने पूरे होने के बाद भी जांची नहीं जा सकी हैं. जेपीएससी मुख्य परीक्षा 28 जनवरी से 1 फरवरी तक विवादों के बीच ली गयी थी. मुख्य परीक्षा में करीब 27,500 छात्र शामिल हुए थे. मुख्य परीक्षा की कॉपियों की जांच आयोग झारखंड और बिहार के प्रोफेसर्स से नहीं कराना चाहता है.

आयोग ने देशभर के 62 विश्वविद्यालयों से कॉपियों की जांच के लिए प्रोफेसर्स की लिस्ट मांगे थे, जो आयोग को मिल भी चुके हैं. सूत्रों की मानें तो कोई भी झारखंड आकर जेपीएससी मुख्य परीक्षा की कॉपियों की जांच नहीं करना चाहता है. हालांकि आयोग ने जांच के लिए प्रथम चरण की प्रक्रिया चालू कर दी है, जिसमें कोडिंग और अपडेटिंग का काम किया जा रहा है. जेपीएससी छठी सिविल सेवा परीक्षा पिछले चार सालों से जारी है.

इसे भी पढ़ें – नक्शा पास करने के लिये नगर विकास विभाग को रोड बनाने वाले इंजीनियर घनश्याम अग्रवाल ही पसंद

500 के लिस्ट में मात्र पांच शिक्षक ही कॉपी जांचने को हैं तैयार

जेपीएससी को विभिन्न विश्वविद्यालयों से 500 प्रोफेसर्स की सूची मिली है. लेकिन 500 में मात्र 5 शिक्षक ही झारखंड आकर कॉपियां जांचने के लिए तैयार हैं. अगर ऐसा हुआ तो कॉपी जांचना आयोग को लिए बड़ी चुनौती साबित हो सकती है. आयोग के सचिव रणेंद्र कुमार के अनुसार, आयोग पूरा प्रयास कर रहा है कि कॉपियों की जांच के लिए प्रोफेसर आयें और कॉपियों की जांच में देरी ना हो.

सीसीटीवी कैमरे की नजर में होगी जांच

जेपीएससी की मुख्य परीक्षा के कॉपियों की जांच सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी. आयोग ने बताया कि कॉपी जांच में किसी तरह की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी. मूल्यांकन कार्य निष्पक्ष तरीके से किया जाएगा. बाहर से आने वाले प्रोफेसर्स को हर सुविधा मुहैया करायी जाएगी.

इसे भी पढ़ें – नगर निगम : रखरखाव के अभाव में जर्जर हो गयी 1.40 करोड़ की रोड स्वीपिंग मशीन, नयी खरीदने की तैयारी

चार साल से हो रही है छठी परीक्षा 

18 दिसंबर 2016 को पीटी

23 फरवरी 2017 को पीटी का रिजल्ट, 5138 अभ्यर्थी पास

11 अगस्त 2017 को दूसरी बार पीटी का रिजल्ट जारी, 6103 अभ्यर्थी पास

मुख्य परीक्षा के लिए 29 जनवरी 2018 की तारीख तय हुई

24 जनवरी 2018 को मुख्य परीक्षा स्थगित कर दी गई

8 फरवरी 2018 को सरकार के कैबिनेट में पास मार्क्स से रिजल्ट जारी करने का आदेश

18 मई 2018 को अभ्यर्थियों की याचिका हाईकोर्ट ने किया खारिज

06 अगस्त 2018 को तीसरी बार पीटी का रिजल्ट जारी, 34,634 पास

28 जनवरी से 2 फरवरी 2019 तक मुख्य परीक्षा

इन पदों पर होनी है नियुक्ति

झारखंड प्रशासनिक सेवा            143

झारखंड वित्त सेवा                     104

झारखंड शिक्षा सेवा                    36

झारखंड सहकारिता सेवा              09

झारखंड सामाजिक सुरक्षा सेवा      03

झारखंड सूचना सेवा                   07

झारखंड पुलिस सेवा                   06

झारखंड योजना सेवा                  18

कुल पद                                  326

इसे भी पढ़ें – चाईबासा : सारंडा क्षेत्र में फिर सक्रिय हुआ नक्सलियों का दस्ता, लेवी वसूलने पर दे रहे जोर

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: