न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नक्शा पास करने के लिये नगर विकास विभाग को रोड बनाने वाले इंजीनियर घनश्याम अग्रवाल ही पसंद

नगर विकास विभाग ने जारी किया आदेश, घनश्याम अग्रवाल बने आरआरडीए के टाउन प्लानर

146

Ranchi: नगर विकास विभाग ने 10 जुलाई को एक आदेश जारी किया. जिसमें रांची और धनबाद में टाउन प्लानरों का पदस्थापन किया गया है. एक बार फिर से घनश्याम अग्रवाल अब टाउन प्लानर कहे जायेंगे.

mi banner add

नगर विकास विभाग के सचिव अजय कुमार सिंह की अनुशंसा पर विभागीय मंत्री ने फाइल पर स्वीकृति दी. जिसके बाद आदेश जारी हुआ. आदेश के मुताबिक घनश्याम अग्रवाल को आरआरडीए का टाउन प्लानर बनाया गया है.

घनश्याम अग्रवाल मूल रुप से पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता है. पिछले 15-17 सालों से वह रोड बनाने का काम नहीं कर रहे हैं. नगर विकास विभाग में कभी धनबाद तो कभी रांची में टाउन प्लानर के पद पर पदस्थापित रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- क्या आपके अखबारों ने 1.70 लाख करोड़ के आंकड़ों के…

कार्यपालक अभियंता रैंक में कई पद रिक्त

टाउन प्लानर के पद पर अब से पहले तक दूसरे विभागों के सहायक अभियंता रैंक के अभियंता पदस्थापित होते रहें हैं. घनश्याम अग्रवाल भी सहायक अभियंता रैंक में टाउन प्लानर ही रहे. लेकिन अब कार्यपालक अभियंता में प्रोन्नति के बाद भी उन्हें टाउन प्लानर ही बनाया गया है. जबकि विभाग में कार्यपालक अभियंता रैंक में भी कई पद रिक्त हैं.

उल्लेखनीय है कि नगर विकास विभाग ने पहले घनश्याम अग्रवाल रांची नगर निगम का टाउन प्लानर बनाने की अनुशंसा की थी. लेकिन मुख्यमंत्री सचिवालय ने आपत्ति के साथ संचिका को वापस कर दी थी. सीएम सचिवालय की आपत्ति के बाद विभाग ने कुछ दिन चुप्पी साधे रखा. फिर जून माह में दुबारा फाइल बढ़ाया.

इसे भी पढ़ें- नगर निगम : रखरखाव के अभाव में जर्जर हो गयी 1.40 करोड़ की रोड स्वीपिंग मशीन, नयी खरीदने की तैयारी

घनश्याम अग्रवाल को RRDA का टाउन प्लानर बनाने का फैसला

इस बार घनश्याम अग्रवाल को आरआरडीए का टाउन प्लानर बनाने का फैसला लिया गया. यहां जैसे-जैसे रांची का विकास हो रहा है, बहुमंजिली इमारतें बनने लगी. वैसे-वैसे आरआरडीए या नगर निगम में टाउन प्लानर का पद ही सबसे महत्वपूर्ण पद हो गया है. क्योंकि नक्शा पास करने में लाखों-करोडों की घूसखोरी का खेल होता रहा है.

उल्लेखनीय है कि घनश्याम अग्रवाल को आरआरडीए का टाउन प्लानर बनाने की तैयारी से संबंधित खबर पिछले दिनों न्यूज विंग ने प्रकाशित किया था. कई स्तर पर यह सवाल उठाये जाने लगे थे कि आखिर क्यों नगर विकास को रोड बनाने वाला अभियंता ही टाउन प्लानर से रूप में पसंद है. इस कारण करीब एक सप्ताह तक मंत्री के स्तर से कोई फैसला नहीं लिया गया.

इसे भी पढ़ें- BSNL: कभी थी नंबर वन और अब क्यों है डूबने की कगार पर?

विवादों में रहे गजानंद राम रांची नगर निगम के टाउन प्लानर 

गजानंद राम को रांची नगर निगम का टाउन प्लानर बनाया गया है. जबकि वह पहले से ही विवादित रहें हैं. गजानंद राम को नगर निगम रांची के टउन प्लानर का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. वह विभाग में नगर निवेशक संगठन के टाउन प्लानर के पद पर पदस्थापित हैं. पहले उन्हें विभाग ने आरआरडीए के टाउन प्लानर का अतिरिक्त प्रभार दे रखा था.

इसके अलावा विभाग ने पथ निर्माण विभाग के ही कार्यपालक अभियंता अरुण कुमार (घनश्याम अग्रवाल भी इसी रैंक के अभियंता हैं) को रांची नगर निगम में कार्यपालक अभियंता के पद पर पदस्थापित किया है.

जबकि जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता ललन कुमार को आरआरडीए का कार्यपालक अभियंता बनाया गया है. रांची नगर निगम के कार्यपालक अभियंता शैलेंद्र कुमार मंडल की सेवा उनके पैतृक विभाग जल संसाधन विभाग को सौंप दी गयी है.

धनबाद नगर निगम में उप नगर आयुक्त के पद पर पदस्थापित राजेश कुमार सिंह को चिरकुंडा नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी का प्रभार दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: