Crime NewsJamshedpurJharkhand

Jamshedpur Crime Update : नशे के कारोबारियों पर पुलिस का शिकंजा, सोनारी में 10.75 किलो गांजा के साथ दो गिरफ्तार

Jamshedpur : जमशेदपुर पुलिस ने नशे के अवैध कारोबारियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसके लिये गठित पुलिस की विशेष टीम ने सोनारी के न्यू ग्वालाबस्ती के दो घरो में छापेमारी कर 10.75 किलोग्राम गांजा के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार लोगों में दिनेश सिंह और अरविंद सिंह उर्फ काला बिहारी उर्फ छोटू शामिल है. दोनों चाचा-भतीजा है.

पुलिस ने दिनेश सिंह के घर से 4.950 किलोग्राम और एवं अरविन्द सिंह उर्फ काला बिहारी उर्फ छोटू के घर से 5.80 किलोग्राम गांजा बरामद किया है. यह जानकारी जिले के एसएसपी डॉ एम तमिल वाणन ने प्रेस वार्ता में दी. उन्होंने बताया कि नशे के कारोबार पर रोक लगाने के लिए जिले को चार जोन में बांटकर डीएसपी के नेतृत्व में चार टीम का गठन किया गया है. वहीं एक टीम जिला स्तर पर भी गठित किया गया है, जो किसी भी थाना क्षेत्र में उस थाने की टीम के साथ किसी सूचना पर कार्रवाई कर सकती है. उसी के तहत सोनारी पुलिस के साथ मिलकर गुप्त सूचना के आधार पर डीएसपी मुख्यालय-दो के नेतृत्व में यह कार्रवाई की गई. इस मामले में सोनारी थाना में दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.
बारीडीह का अनिल सिंह करता है गांजा सप्लाई
पूछताछ में पकड़े गये दिनेश सिंह और अरविंद सिंह उर्फ काला बिहारी उर्फ छोटू ने पुलिस को बताया कि बारीडीह का रहनेवाला अनिल सिंह इनलोगों को गांजे का सप्लाई करता था. पुलिस ने उसकी तलाश में छापेमारी भी की, हालांकि वह नहीं मिल पाया. आगे पुलिस अनिल सिंह की तलाश में सरगर्मी से जुटी हुयी है. इसे लेकर गहन छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है.
दिनेश गांजा बिक्री के मामले में पूर्व में जा चुका है जेल
पुलिस के हत्थे चढ़ा दिनेश सिंह का गांजा बेचने के मामले में पहले भी जेल जा चुका है. उस पर उसके खिलाफ 16 जून 2021 को सोनारी थना में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. हालांकि अरविंद सिंह उर्फ काला बिहारी का पूर्व में आपराधिक इतिहास नहीं रहा है.
पुलिस का अभियान रहेगा जारी
एसएसपी ने बताया कि नशीले पदार्थों की बिक्री के खिलाफ पुलिस का यह अभियान आगे भी जोरशोर से जारी रहेगा. इसके पूर्व उलीडीह से भारी मात्रा में नशीली दवाईयों के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है. नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस आगे भी इस अभियान में जोरशोर से जुटी हुयी है.

ये भी पढ़ेंXLRI Ensemble-Valhalla 2022: बॉलीवुड स्‍टार आर माधवन बोले-सफल प्रोफेशनल के बजाय सफल इंसान बनकर जीवन को बदलें 

Catalyst IAS
ram janam hospital

Related Articles

Back to top button