GiridihKhas-Khabar

गिरिडीह: डुमरी थाना प्रभारी किये गये सस्पेंड, जवान के साथ किया था दुर्व्यवहार

Giridih: लॉकडाउन का अनुपालन करा रहे जवान के साथ दुर्व्यवहार करने मामले में डुमरी थाना प्रभारी उपेंद्र कुमार राय को बुधवार को गिरिडीह एसपी ने सस्पेंड कर दिया. बता दें कि डुमरी थाना प्रभारी उपेन्द्र राय का एक वीडियो वायरल हुआ था.

इस वीडियो में थाना प्रभारी उपेन्द्र कुमार राय लॉकडाउन का अनुपालन करा रहे पुलिसकर्मी के साथ दुर्व्यवहार करते नजर आ रहे थे. वे जवान पर भड़क रहे थे. इसके बाद एसपी ने मामले की जांच के बाद थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया.

इसे भी पढ़ें – हिंदपीढ़ी में लगे ‘गोदी मीडिया हाय-हाय’ के होर्डिंग, मीडिया का हो रहा बहिष्कार

क्या था मामला

दरअसल बीते 13 अप्रैल की देर रात पुलिस जवान डुमरी चौक पर लॉकडाउन की ड्यूटी पर मुस्तैद थे. वायरल वीडियो के अनुसार दो बाइक सवार युवक वहां से गुजर रहे थे. दोनों युवकों के बगैर मास्क लगाये चौक के पास से गुजरता देख पुलिस जवानों ने उन्हें रोका. जवानों ने उनसे रात में घूमने का कारण पूछा तो उन्होंने कारण बताने के बजाय खुद को डुमरी थाना प्रभारी का करीबी बताया.

इतने में ही वहां थाना प्रभारी उपेन्द्र राय भी पहुंचे और जवानों से दोनों युवकों को रोकने की वजह पूछी. जवानों ने कारण बताया, लेकिन थाना प्रभारी बाइक सवार युवकों पर कार्रवाई करने की बजाय जवानों पर हीं भड़क गये. उन्हें फटकारना शुरू कर दिया.

थाना प्रभारी ने कहा कि दोनों उनके स्पाई हैं, ऐसे में जवानों को उन्हें रोकने की हिम्मत कैसे हुई. थाना प्रभारी के इस रवैये पर जवानों ने अपनी ड्यूटी पर होने का तर्क दिया. इसके बाद डुमरी थाना प्रभारी ने ड्यूटी में तैनात जवानों को उनकी औकात बताने की बात कही. साथ ही उन्हें नौकरी से हटाने की धमकी भी दी थी.

इसे भी पढ़ें – #FightAgainstCorona: धनबाद के कुमारधुबी में कोरोना संदिग्ध मिलने के बाद इलाके को सील करने की तैयारी

कुछ महीने पहले भी लाइन हाजिर हुए थे थाना प्रभारी उपेन्द्र राय

दबंग व्यवहार की वजह से एसपी सुरेन्द्र झा ने कुछ महीने पहले उपेन्द्र राय को पीरटांड से लाइन हाजिर किया गया था. हालांकि इसके कुछ महीनों के बाद ही उपेन्द्र राय को डुमरी थाना का प्रभारी बना दिया गया था. पीरटांड में रहते हुए उपेन्द्र राय पर अवैध कोयला का कारोबार चलाने का आरोप तक लग चुका था. यही नहीं कुछ ग्रामीणों की पिटाई का भी आरोप इनपर पीरटांड में लगा था.

इसे भी पढ़ें –ज्वाइंट सेक्रटरी के बाद उप सचिव और उनसे सीनियर अधिकारी भी आयेंगे ऑफिस, केंद्र सरकार ने जारी किये निर्देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button