Education & CareerNEWS

झारखंड के 200 से अधिक एआइसीटीइ एप्रूव्ड तकनीकी व मैनेजमेंट संस्थानों में नहीं बढ़ेगी फीस, 1 जुलाई से शुरू होंगे शैक्षणिक सत्र

Ad
advt

Ranchi :  झारखंड के 200 से अधिक मैनेजमेंट, इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक संस्थान अपने नये शैक्षणिक सत्र 2020-21 में न तो फीस बढ़ायेंगे और न ही एडवांस्ड फीस जमा करने के लिए अभिभावकों व स्टूडेंट्स पर दबाव बना सकेंगे.

ऐसा इसलिए हो सकेगा क्योंकि यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन की ओर से सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को गाइडलाइन जारी करने के बाद अब ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआइसीटीइ) ने भी अपने गाइडलाइन जारी किये हैं. इस गाइडलाइन के दायरे में देश के दूसरे राज्यों के संबंद्ध इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और मैनेजमेंट संस्थान भी आयेंगे.

advt

इसे भी पढ़ेंः IAS ने प्लाज्मा डोनेट करने पर की तबलीगियों की तारीफ, कर्नाटक सरकार ने नोटिस दे किया जवाब तलब

वहीं झारखंड के 200 से अधिक इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और मैनेजमेंट संस्थानों को इस गाइडलाइन का पालन करना होगा. एआइसीटीइ की ओर से जो गाइडलाइन जारी की गयी है, उसमें कई अहम बातें हैं. सबसे अहम बात फीस को लेकर है. गाइडलाइन में यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और मैनेजमेंट संस्थान शैक्षणिक सत्र 2020-21 में किसी भी कोर्स की फीस में बढ़ोत्तरी नहीं करेंगे. इतना ही नहीं संस्थान अभिभावकों को एडवांस फीस देने के लिए मजबूर नहीं करेंगे.

advt

मैनेजमेंट कोर्स का एकेडमिक कैलेंडर भी जारी

एआइसीटीइ ने अपने वेबसाइट aicte-india.org पर नोटिस जारी करते हुए कहा कहा है कि एआईसीटीई से संबंद्ध संस्थान व पॉलीटेक्निक गाइडलाइंस का पालन अनिवार्य रूप से करेंगे. वहीं काउंसिल ने मैनेजमेंट संस्थाओं के एकेडमिक कैलेंडर को भी जारी किया है. इसक नोटिस के अनुसार पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (पीजीडीएम) और पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट इन मैनेजमेंट (पीजीसीएम) संस्थानों के शैक्षणिक सत्र के लिए नया कैलेंडर 1 जुलाई से शुरू होगा.

दोनों ही कोर्स की क्लासेस शुरू होने की तारीख 1 जुलाई 2020 ही निर्धारित की गयी है. नामांकन लेने के बाद अगर कोई स्टूडेंट्स पीजीडीएम /पीजीसीएम में से किसी भी कोर्स सीट रद्द करना चाहता है तो वे 25 जुलाई 2020 तक ऐसा कर पायेंगे. इसके बाद दोनों ही कोर्स में एडमिशन की अंतिम तारीख  31 जुलाई 2020 तय है. नये स्टूडेंट्स के लिए नये सत्र की क्लासेस की शुरुआत 1 अगस्त 2020 से की जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः #Ranchi डीसी राय महिमापत रे ने ऐसा क्या किया कि कुवैत में रह रहे युवक ने कहा- थैंक्यू डीसी सर

संस्थान शुरू कर सकते हैं ऑनलाइन क्लासेस

एआईसीटीई ने अपने अने गाइडलाइन में कहा है कि अगर फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट्स के पेपर नहीं हो सके हैं तो यूजीसी गाइडलाइंस के आधार पर उन स्टूडेंट्स को अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाये. संस्थान चाहें तो गाइडलाइन के मुताबिक ऑनलाइन पढ़ाई शुरू कर सकते हैं.

लॉकडाउन के चलते कुछ यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन फाइनल ईयर के पेपर नहीं हो सके हैं. ऐसे छात्रों को प्रोविजनल आधार पर एडमिशन लिया जा सकता है. प्रोविजनल एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को अपना कोर्स पूरा होने का सर्टिफिकेट संस्थान को 31 दिसंबर 2020 तक दिखाना अनिवार्य होगा.

इसे भी पढ़ेंः लीजिये, शुरू हो गया बैंकों का डूबना, महाराष्ट्र का सीकेपी बैंक का लाइसेंस कैंसल

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: