न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीपी सिंह जी EESL की LED हफ्ते भर में हो जाती हैं फ्यूज, इसकी जांच हो : सरयू राय

EESL की तरफ से लगने वाली LED की गुणवत्ता पर सवाल उठाया है.

856

Ranchi: झारखंड के खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने नगर विकास मंत्री सीपी सिंह को एक चिट्ठी लिखी है. चिट्ठी में उन्होंने नगर निकायों में सरकार की तरफ से लगने वाले LED पर सवाल उठाया है. आम तौर पर देखा जाता है कि सड़कों पर लगने वाली LED लाइट फ्यूज रहती है और उसे महीनों तक बदला नहीं जाता. इससे लोगों को रात में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अब यह मामला मंत्री सरयू राय के संज्ञान में आया है. उन्होंने EESL की तरफ से लगने वाली LED की गुणवत्ता पर सवाल उठाया है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें- ‘शौचालय’ से आ रही लाखों के घोटाले की बदबू

जमशेदपुर के गलियों में LED की वजह से अंधेरा

मंत्री सरयू राय ने कहा है कि जमशेदपुर अधिसूचित क्षेत्र के गैर कंपनी इलाकों और मानगो नगर निगम क्षेत्र में लगाए गए एलईडी बल्ब फ्यूज हो चुके हैं. नगर विकास मंत्री सीपी सिंह को लिखे खत में उन्होंने कहा कि जो एलईडी बल्ब इस दलील के साथ लगाए गए थे कि इससे बिजली की खपत कम हो जाएगी. लेकिन बिजली की खपत कम करने का यह मतलब कतई नहीं है कि लोग अंधेरे में रहें. नियम के अनुसार राज्य सरकार, नगर निकाय तथा EESL के बीच जो समझौता हुआ था उसके अनुसार EESL को मुख्यालय में एक कार्यालय भी खोलना है. विडंबना यह है कि EESL ने जहां-जहां भी एलईडी अधिष्ठापन का कार्य किया वहां 10-15 दिनों के भीतर सारे बल्ब फ्यूज कर गए. सड़कों पर पुरानी बिजली व्यवस्था को यह कर ध्वस्त कर दिया है कि इसमें बिजली की खपत ज्यादा होती है. लिहाजा EESL की LED फ्यूज होने के बाद अब लोग अंधेरे में हैं.

Related Posts

कोल्हान के बाद पलामू में नक्सलियों की सक्रियता बढ़ी, वाहन जला पुलिस को दे रहे खुली चुनौती

विकास कार्यों में लगे वाहनों को निशाना बना रहे नक्सली संगठन, लेवी के लिए खौफ पैदा करना चाहते हैं

इसे भी पढ़ें- सुषमा स्वराज ने कहा था इजरायल दौरे से रणधीर सिंह का नाम हटा किसानों को भेज दीजिए : डीएन चौधरी

क्या गड़बड़ी हुई है, जांच हो

EESL की ओर से LED लगाने में क्या गड़बड़ी हुई है. इसकी जांच होनी चाहिए, क्योंकि यह भारत सरकार की एजेंसी है, जिसे ऊर्जा मंत्रालय भारत सरकार के अधीन चार केंद्रीय उपक्रमों एनटीपीसी, पीजीसीआइएल, पीएफसीएल और आरईसी के संयुक्तउपक्रम के रूप में स्थापित किया गया है. यह आवश्यक है कि भारत सरकार का ध्यान इस ओर जाए. मंत्री यह सुनिश्चित करें कि LED की तकनीक उन्नत हो. घटिया किस्म की एलईडी की जगह उत्तम किस्म की एलईडी लगाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: