JharkhandLead NewsRanchi

मुख्यमंत्री ने 14 राइस मिल का किया शिलान्यास, कहा- राज्य में और मिल की जरूरत

Ranchi : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार पहली बार इतने बड़े पैमाने पर काम कर रही है. राज्य के किसान खुशहाल रहें सरकार यही चाहती है. सरकार किसानों की भावनाओं के अनुरूप कार्य कर रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 14 मिल से काम नहीं चलेगा. राज्य में और मिल की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि यहां 100 मिल होने चाहिए, फिलहाल 80 मिल हैं. राइस मिल के खुल जाने से किसान ज्यादा धान बेच सकेंगे. मुख्यमंत्री श्री सोरेन सोमवार को 14 राइस मिल के शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रहे थे. शिलान्यास कार्यक्रम प्रोजेक्ट भवन सचिवालय में आयोजित किया गया. कार्यक्रम में मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, राजीव अरुण एक्का व प्रधान सचिव विनय चौबे, पूजा सिंघल समेत विभाग के आला अधिकारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – 7वीं JPSC मामले में हाइकोर्ट ने JPSC से पूछा- कैटेगरीवाइज कितनी सीटें हैं

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के प्रति सरकार गंभीर है. किसानों को समृद्ध बनाने का प्रयास कर रही है क्योंकि, राज्य का 70 फीसदी आबादी गांवों में बसती है. वहीं, कार्यक्रम में मौजूद वित्र मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि झारखंड में राइस मिल की सख्त जरूरत है. राइस मिल के खुलने से निजी क्षेत्र व सरकार दोनों को लाभ मिलेगा. उन्होंने कहा कि 20 राइस मिल खोलने का प्रस्ताव था पर पहले चरण में 14 मिल का शिलान्यास किया गया है. छह राइस मिल जल्द ही खुलेंगे. उन्होंने कहा कि आटा मिल भी खुले तो इसका भी लाभ होगा. रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. राइस मिल खुलने से झारखंड के किसान पहले से ज्यादा धान बेच सकेंगे. इससे युवाओं को रोजगार मिलेगा.

इन जिलों में खुलेंगे राइस मिल

गढ़वा, पलामू, लातेहार, पश्चिमी सिंहभूम, खूंटी, गुमला, सिमडेगा, धनबाद, बोकारो और गोड्डा.

इसे भी पढ़ें – क्या योगी सरकार से नाराज हैं लोग और बदलना चाहते हैं?  जानें सर्वे में क्या हुआ खुलासा

Advt

Related Articles

Back to top button