Education & Career

सीबीएसई ने बढ़ाया रजिस्ट्रेशन व परीक्षा शुल्क, सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार को दोगुना तो एससी-एसटी को देना होगा 24 गुना बढ़ा फीस

Ranchi: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने इस साल परीक्षा संबंधी दो बड़े फैसले लिये हैं. इसमें रजिस्ट्रेशन शुल्क और परीक्षा शुल्क में वृद्धि शामिल है. सीबीएसइ ने इस बाबत नोटिस भी जारी कर दिया है. जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक परीक्षा शुल्क के रूप में सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार को दोगुना तो एससी-एसटी उम्मीदवारों को 24 गुना बढ़ी हुई फीस देनी होगी. एससी-एसटी उम्मीदवारों का परीक्षा शुल्क 50 रुपये से बढ़ा कर 1200 रुपये कर दिया है. वहीं सामान्य श्रेणी के छात्रों को अब यही परीक्षा शुल्क 750 रुपये की जगह 1500 रुपये देने होंगे. एससी-एसटी उम्मीदवारों को पांच विषयों के लिए 1200 रुपये और अतिरिक्त विषय के लिए प्रति विषय 300 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा. प्रायोगिक परीक्षा शुल्क की बात करें तो 12 वीं कक्षा की प्रायोगिक परीक्षा का शुल्क भी 70 रुपये प्रति विषय बढ़ गया है. पहले जहां 80 रुपये प्रति विषय देने होते थे, अब 150 रुपये प्रति विषय देने होंगे.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें – किसान-इंजीनियर जान दे रहे हैं और सरकार मुस्कुरा रही है

नौवीं व 11 वीं का रजिस्ट्रेशन चार्ज हुआ दोगुना

परीक्षा शुल्क के साथ ही बोर्ड ने 9वीं और 11वीं के छात्रों का रजिस्ट्रेशन शुल्क भी दोगुना कर दिया है. अब दोनों कक्षाओं के छात्रों को पांच विषय के रजिस्ट्रेशन के लिए कुल 1500 रुपये चुकाने पड़ेंगे. पिछले वर्ष तक दोनों कक्षाओं के विद्यार्थियों को रजिस्ट्रेशन के लिए कुल 750 रुपये का भुगतान करना पड़ता था. साथ ही इस बार विलंब शुल्क के साथ ही पंजीकरण कराने की प्रक्रिया को भी दोगुने तक महंगा कर दिया है. 8 अगस्त से दोनों क्लास के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया प्रारंभ है. 15 अक्टूबर तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – पहले मुझे थाना लेकर गये और एंबुलेस में बैठाया, उतरते ही जबरन हाथ में पकड़ा दी थाली

Samford

एक क्लास में अधिकतम 40 विद्यार्थी ही रहें

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने बोर्ड से मान्यता प्राप्त स्कूलों को रजिस्ट्रेशन की गाइडलाइन को सख्ती से पालन करने को कहा है. बोर्ड के मुताबिक मान्यता प्राप्त स्कूल एक क्लास के एक सेक्शन से केवल 40 छात्रों का ही पंजीकरण करें. सीबीएसई ने स्कूलों को रेगुलर क्लास करनेवाले विद्यार्थियों का ही रजिस्ट्रेशन करने को कहा है.

इसे भी पढ़ें – रिलायंस इंडस्ट्रीज की मीडिया में नहीं आती खबर, घाटे में चल रही कंपनी, जियो से बढ़ा कर्ज

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: