BiharLead News

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर दोहराई जातीय जनगणना की मांग

बिहार के लिए 350 एंबुलेंस और 50 सीएनजी बसों को पटना में दिखाई हरी झंडी

Patna : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को राजधानी पटना में स्वास्थ्य सुविधा के बेहतर बहाली को लेकर को पूरे बिहार के लिए 350 एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाई. इसके साथ ही 50 सीएनजी बसों का परिचालन भी शुरू हो गया.

लोगों को अस्पताल ले जाने में दिक्कत ना हो इसके लिए मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत एंबुलेंस दिये गये. जल्द ही 850 एंबुलेंस और दिये जाएगा. इसके साथ ही पटना शहर में प्रदूषण को कम करने के लिए सीएनजी बसों का परिचालन भी किया जा रहा है.

क्यों की जातीय जनगणना की मांग

इस कार्यक्रम के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने एक बार फिर जातीय जनगणना की मांग दुहराई . उन्होंने कहा कि 2019 के फरवरी और 2020 के फरवरी में विधानसभा से यह सर्व सहमति से प्रस्ताव पारित किया गया कि जनगणना जातिगत आधारित हो. एक बार जातीय आधार पर जनगणना जरूर होना चाहिए. इससे पता चलेगा की एससी-एसटी के अलावा गरीब गुरबा तबके के जो लोग हैं उनकी संख्या क्या है और उनको इसका लाभ मिलेगा. इस बात को संसद में भी उठाने की बात सीएम नीतीश कुमार ने कही.

advt

इसे भी पढ़ें :बिहार के बाहुबली पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह को कोर्ट ने साक्ष्य के अभाव में किया बरी

बालू के अवैध खनन पर हो रही है कार्रवाई

बिहार में बालू के अवैध खनन पर भी नीतीश कुमार बोलते नजर आए. बालू के अवैध खनन पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अवैध खनन पर लगातार कार्रवाई हो रही है जो दोषी अधिकारी हैं उन पर भी कार्रवाई हुई है. जांच के बाद सरकारी कर्मचारी और ऑफिसरों पर भी कार्रवाई हुई है. वहीं पुलिस और अन्य विभागों के माध्यम से इस पूरे मामले की देखभाल की जा रही है.

adv

सीएम ने कहा कि कुछ लोगों की मानसिकता ही गड़बड़ होती है लेकिन इसके लिए पूरा प्रयास होना चाहिए कि कम से कम गड़बड़ी हो. हमारा लक्ष्य है की किसी तरीके की गड़बड़ी नहीं होनी चाहिए. सभी जिलों के डीएम और एसपी को भी अवैध खनन रोकने के लिए निर्देशित किया गया है. सरकारी तंत्र में गड़बड़ी करने वालों को भी नहीं छोड़ा जाता है कुछ लोगों को भी अभी पता चल गया है.

इसे भी पढ़ें :बचपन में लकड़ियों का गट्ठर उठानेवाली लड़की की बदौलत टोक्यो ओलंपिक में गूंजा जन-गण-मन

फोन टैपिंग पर कार्रवाई होनी चाहिए

नीतीश कुमार ने फोन टैपिंग मामले पर कहा कि नई टेक्नोलॉजी का लाभ भी है और दूसरी तरफ गड़बड़ी भी है. इस पर निश्चित रूप से कार्रवाई होनी चाहिए. केंद्र सरकार ने भी कहा है जो गलत चीज है उस पर एक्शन होना चाहिए. कभी भी किसी को परेशान नहीं करना चाहिए और उनकी चीजों को नियंत्रण में लेने की कोशिश नहीं करनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें :अगर मोबाइल पर दिखे सर्वर नॉट फाउंड तो हो जाएं अलर्ट, आपके बैंक खाते हो सकते हैं खाली

ऑक्सीजन की कमी ना हो इसके लिए हो रहा काम

अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि ऑक्सीजन पर काम किया जा रहा है . अचानक जरूरत हुई तो दिक्कतें हुई लेकिन जरूरतों को पूरा भी किया गया. ऑक्सीजन की कोई कमी ना हो इसके लिए काम किया जा रहा है. अस्पतालों और अन्य जगहों पर भी पूरी तरीके से तैयारी चल रही है. अगले महीने ऑक्सीजन की जरूरत बहुत जगहों पर पूरी हो जाएगी.

इसे भी पढ़ें :क्या उद्घाटन के लिए डेढ़ महीने में तैयार हो पायेगा देवघर एयरपोर्ट, 17 सितंबर के डेट पर सांसद-विधायक आश्वस्त

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: