न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छह महीने से वेतन नहीं मिलने से नाराज पीएचइडी के ठेका कर्मियों ने बाधित की जलापूर्ति

1,012
  • हटिया डैम से शहर के आधे हिस्से में नहीं हुई जलापूर्ति
  • प्रोजेक्ट भवन मंत्रालय से लेकर डीजी ऑफिस और एक दर्जन से अधिक कार्यालयों को नहीं मिला पानी

Ranchi: छह महीने से वेतन नहीं मिलने से नाराज पेयजल और स्वच्छता विभाग (पीएचइडी) के ठेका कर्मियों ने सोमवार की सुबह में हटिया डैम से आधे शहर की जलापूर्ति बाधित कर दी. आनन-फानन में विभाग के अधिकारियों ने वार्ता के लिए प्रतिनिधियों को भेजा.

इसे भी पढ़ेंः पुलवामा मुठभेड़ में लश्कर के चार आतंकवादी ढेर, हथियार भी बरामद

घंटों बाधित रही जलापूर्ति

सुबह 10.30 बजे तक हटिया डैम से 19 से अधिक वार्ड में पीने के पानी की आपूर्ति बाधित रही. नतीजतन चार लाख से अधिक की आबादी पानी के लिए ट्यूबवेल और अन्य स्त्रोतों पर मंडराती दिखी.

कई जगहों पर पहले पानी भरने को लेकर झड़प भी हुई. डैम से सुबह पांच बजे से ही एचइसी कालोनी, एचइसी के तीनों प्लांट, प्रोजेक्ट भवन, एमडीआइ बिल्डिंग, झारखंड राज्य विद्युत बोर्ड, 100 बिल्डिंग, डीजीपी कार्यालय, सीआरपीएफ कैंप, सीआइएसएफ मुख्यालय, बिरसा मुंडा एयरपोर्ट, हटिया रेलवे कालोनी, हिनू, डोरंडा, बिरसा चौक और अन्य जगहों पर जलापूर्ति शुरू की जाती है. आज यह जलापूर्ति सुबह से घंटों बाधित रही.

इसे भी पढ़ेंः ‘आप’ को नहीं मिला ‘हाथ’ का साथः केजरीवाल ने कहा-राहुल ने गठबंधन से किया इनकार

SMILE

न्यूजविंग संवाददाता ने मामले पर अवर प्रमंडल हटिया के कार्यपालक अभियंता रियाज आलम से बातचीत की. कार्यपालक अभियंता ने बताया कि विभाग के मैकेनिकल डिविजन के कर्मियों की वजह से पानी की सप्लाई बाधित हुई है.

मैकेनिकल डिविजन के कार्यपालक अभियंता टीसी दास ने कहा कि ठेका कर्मियों से बातचीत जारी है, जल्द ही इसे सुलझा लिया जायेगा. उन्होंने कहा कि फिलहाल छह ठेकाकर्मियों का वेतन लंबित है. इस बारे में विभाग से रिक्वेस्ट भी किया गया है.

रोजाना 12 एमजीडी पानी की होती है आपूर्ति

हटिया डैम से प्रतिदिन 12 मिलियन गैलन लीटर (एमजीडी) पानी की आपूर्ति होती है. दो मिलियन गैलन रॉ वाटर एचइसी के तीनों प्लांटों में भेजा जाता है.

हटिया डैम से न सिर्फ एचइसी के आवासीय परिसर, बल्कि हटिया रेलवे कॉलोनी, तुपुदाना औद्योगिक क्षेत्र, हटिया रेलवे यार्ड, सिंहमोड़, बिरसा चौक, न्यू एरिया गांधीनगर, हिनू का समुचा इलाका, मनीटोला, पीएचइडी कालोनी हिनू, सचिवालय कालोनी हिनू, हिनू रजिस्ट्रार कार्यालय, शुक्ला कालोनी, लोवर शुक्ला कालोनी, किल्बर्न कालोनी, हिनू एजी ऑफिस कार्यालय, वीर कुंवर सिंह कालोनी, साकेत नगर, न्यू साकेत नगर, खोखमाटोली, हिनू हाईकार्ट कालोनी समेत आसपास के इलाके में पानी की आपूर्ति की जाती है.

इसे भी पढ़ेंः चतरा संसदीय सीट: बड़ा सवाल क्या चतरा में फ्रैंडली मैच खेलेगी कांग्रेस या हटेगी पीछे?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: