न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्य में संवैधानिक प्रावधानों को तोड़ कर किया जा रहा कामः कानूनविद् रश्मि कात्यायन

पांचवी अनुसूची का मामला अधर में, नहीं बन पाया पेसा का रूल

1,261

Ranchi: विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल अपने किले को मजबूत करने में लगे हैं. दूसरे चरण में 16 आदिवासी रिजर्व सीटों पर वोटिंग होनी है.

आदिवासी मतदाताओं के वोट को अपने पक्ष में लाने के लिए सभी राजनीतिक दल अपने स्तर से कार्य कर रहे हैं. लेकिन आदिवासी क्षेत्र के लिए किये गये संवैधानिक प्रावधानों को लागू करने को किसी भी राजनीतिक दल ने अपने चुनावी एजेंडा में शामिल नहीं किया.

इसे भी पढ़ेंः#INXMediaCase: 106 दिनों बाद जेल से बाहर आएंगे पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम, सुप्रीम कोर्ट ने दी बेल

झारखंड मुक्ति मार्चा, कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी जैसे दलों के साथ-साथ अन्य दूसरे दल भी इसे लागू करने के लिए कभी संजीदा नहीं हुए. राज्य में संवैधानिक प्रावधानों को तोड़ कर ही काम किये जा रहे हैं.

देखिये इस मसले पर न्यूज़ विंग के वरीय संवाददाता प्रवीण कुमार की कानूनविद् रश्मि कात्यायन से विशेष बातचीत-

Whmart 3/3 – 2/4

इसे भी पढ़ेंः#Bihar: बक्सर में हैदराबाद जैसी दरिंदगी, रेप के बाद युवती को मारी गोली फिर पेट्रोल डालकर जलाया 

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like