न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े का विवादित बयान, राहुल गांधी को बताया मंदबुद्धि

राहुल गांधी के ‘मोदीलाई’ शब्द को लेकर केंद्रीय मंत्री ने किया पलटवार

820

Bengaluru: केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के एक बयान से विवाद गहरा सकता है. शुक्रवार को उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को मंदबुद्धि कहा है.

राहुल गांधी ने कहा था कि अंग्रेजी शब्दकोश में एक नया शब्द ‘मोदीलाई‘ जुड़ गया है. जिसके बाद अपने एक ट्वीट में केंद्रीय मंत्री हेगड़े ने कांग्रेस अध्यक्ष को ‘मंदबुद्धि’ कह दिया.

इसे भी पढ़ेंःभारतीय जनता पार्टी इन चुनावों में 100 के आंकड़े को भी पार नहीं कर पाएगी  : ममता बनर्जी

क्या कहा हेगड़े ने

कौशल विकास मंत्री हेगड़े ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ये मंदबुद्धि राहुल गांधी इस बात को साबित करने पर तुले हुये हैं कि उनके पास अपनी तरह का विशिष्ट अंतरराष्ट्रीय मूर्खता कौशल है. और अब यह सारी हदें पार कर गया है. उन्हें कोई नहीं रोक सकता.. अद्भुत…!!!!’’

गौरतलब है कि इससे पहले तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री केसीआर तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव भी कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को मंदबुद्धि कह चुके हैं.

इसे भी पढ़ेंःकोचांग गैंगरेप : फादर अल्फांसो समेत सभी छह दोषियों को आजीवन कारावास

Related Posts

मंदी के साइड इफैक्टः महिंद्रा एंड महिंद्रा ने 1500 अस्थायी कर्मचारियों को निकाला

घटती मांग और बाजार की मंद चाल को देख टाटा और ह्यूंडई ने प्रोडक्शन घटाया

SMILE

‘मोदीलाई’ शब्द को लेकर विवाद

दरअसल राहुल गांधी ने बुधवार को कहा था कि अंग्रेजी शब्दकोश में एक नया शब्द शामिल किया है,‘मोदीलाई’. और उन्होंने इसका एक स्नैपशॉट भी जारी किया.

इस फोटो में यह भी दिख रहा है कि ‘मोदीलाई’ का क्या मतलब है और उसका वाक्य में कैसे प्रयोग करें. हालांकि, कांग्रेस अध्यक्ष का ट्वीट आते ही ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी ने तुरंत इसका खंडन कर दिया.

ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी की ओर से जवाबी ट्वीट कर कहा गया कि ये शब्द फर्जी है और ऐसा कोई शब्द उनकी डिक्शनरी में नहीं है.
भाजपा ने अपने विपक्षी पर निशाना साधने के लिए ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी के ट्वीट का इस्तेमाल किया है. भाजपा के आइटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट में कहा है, ‘स्लैप्ड.

इस बीच हेगड़े के नाथूराम गोडसे के लिए एक विवादित टिप्पणी करने पर बाद में सफाई पेश करते हुये उन्होंने कहा कि उनका अकाउंट ‘‘हैक’’ कर लिया गया है. हालांकि, उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की हत्या को न्यायोचित ठहराने का कोई सवाल नहीं है.

इसे भी पढ़ेंःशारदा घोटाला : कोर्ट से पूर्व पुलिस कमिश्नर को नहीं मिली राहत, सात दिन में ले सकते हैं जमानत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: