Sci & Tech

#Sci&Tech :  इथोपिया के ये तालाब किसी भी तरह के जीवन के लिए सबसे दुरूह स्थान हैं

London :  शोधकर्ताओं ने पृथ्वी पर एक ऐसा जलीय वातावरण खोज निकाला है जहां जीवन की संभावना शून्य है. इस खोज का उद्देश्य जीवन की संभावनाओं को कम करने वाले घटकों के बारे में अग्रिम जानकारी प्राप्त करना है.

‘नेचर इकोलॉजी एंड इवोल्यूशन’ नामक पत्रिका में प्रकाशित इस अध्ययन से पता चला है कि इथियोपिया के डॉलोल भू-तापीय क्षेत्र के गर्म, खारे, अतिअम्लीय तालाबों में जीवन पूरी तरह से असंभव है. इन तालाबों में किसी भी प्रकार के सूक्ष्म जीव भी उपस्थित नहीं थे.

इसे भी पढ़ेंः चंडीगढ़ का कवि दरबार और आर चेतनक्रांति की कविता – मर्दानगी

‘स्पेनिश फाउंडेशन फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी’(एफईसीवाईटी) के अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि डॉलोल क्षेत्र नमक से भरे ज्वालामुखी के मुख यानि क्रेटर पर स्थित है. जलतापीय गतिविधियों के कारण इस क्रेटर से लगातार उबलता पानी और जहरीली गैसें निकलती रहती हैं.

Sanjeevani

उन्होंने बताया कि सर्दियों में भी इस स्थान का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक होता है और यह पृथ्वी पर स्थित सबसे गर्म वातावरण वाले क्षेत्रों में से एक है.

इसे भी पढ़ेंः #MahaPoliticalTwist  फ्लोर टेस्ट टला, SC  में कल फिर सुनवाई, सरकार और सीएम फडणवीस को नोटिस

अनुसंधानकर्ताओं क‍े अनुसार इस क्षेत्र में अत्याधिक खारे और अतिअम्लीय तालाब पाये जाते हैं. शून्य(अतिअम्लीय) से लेकर 14(अत्याधिक क्षारीय) के मानक पर इस स्‍थान का पीएच शून्य से भी कम अर्थात नकारात्मक निशान तक पहुंच जाता है.

पहले हुए अनुसंधान में यह बताया गया था कि इस दुरुह वातावरण में कुछ सूक्ष्म जीवों के पनपने की संभावना है. अनुसंधानकर्ताओं के अनुसार इस स्थान को मंगल ग्रह जैसा माना गया था जहां की स्थितियां रक्ताभ ग्रह जैसी ही हैं.

इसे भी पढ़ेंः शौकत आज़मी को याद करते हुए:  उठ मेरी जान मेरे साथ ही चलना है तुझे

 

Related Articles

Back to top button