न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फोटोग्राफर का सिर फोड़ा, संवाददाता की बाइक तोड़ दी…क्या कांग्रेस एक हुड़दंगी पार्टी है…

426

Ranchi: क्या कांग्रेस एक हुड़दंगी पार्टी है. जिस तरह का कारनामा गुरुवार को कांग्रेसियों ने दिखाया है, कम-से-कम इससे तो यही साबित होता है कि कांग्रेस एक हुड़दंगी पार्टी है. झारखंड में कांग्रेस पार्टी का कलह अब सड़कों पर साफ तौर से देखा जा सकता है. लोकसभा चुनाव में बीजेपी से पूरी तरह से मात खाने के बाद कुछ दिनों तक शांत रहने के बाद कांग्रेसी जब बाहर निकले तो आपस में ही भिड़ पड़े. पूरी पार्टी आज कई हिस्सों में बंटी नजर आ रही है. कांग्रेस के रांची महानगर अध्यक्ष संजय पांडे सरेआम अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय को चोर है-चोर है के नारे से संबोधित कर रहे हैं. मीडिया के सामने अपने कारनामों की वजह से कार्यकर्ता पुलिस से बेतरतीब पिटते हैं. सुबोधकांत सहाय और अजय कुमार का गुट अपनी ताकत दिखाने में कतई पीछे नहीं हटता है. और जब पुलिस की मार पड़ती है तो उसकी खीझ मीडिया पर निकालते हैं.

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस : अजय कुमार और सुबोधकांत सहाय के समर्थक आपस में भिड़े, पुलिस को करना पड़ा लाठी चार्ज, दो गिरफ्तार (देखें वीडियो)

फोटोग्राफर का सिर फोड़ा, संवाददाता की बाइक तोड़ी

कंधे पर कैमरा लटकाये एक दैनिक अखबार के फोटोग्राफर जावेद कांग्रेस मुख्यालय में लग रहे मजलिस-ए-विरोध को कवर कर रहे थे. अमूमन अच्छी फोटोग्राफी के लिए फोटोग्राफर को आगे रहने की जरूरत होती है. वही फोटोग्राफर जावेद भी कर रहे थे. लेकिन अचानक कांग्रेस कार्यकर्ताओं की तरफ से फेंका गया एक पत्थर उनके आंख के महज आधा इंच ऊपर लगता है. वो लहूलुहान हो जाते हैं. शुक्र है कि उनकी आंख बच गयी. वहीं न्यूज विंग के संवाददाता नितेश ओझा जब मजलिस-ए-विरोध का कवरेज करके ऑफिस आने की सोचते हैं, तो वो अपनी बाइक देख कर चौंक जाते हैं. किसी ने अपनी पूरी भड़ास उनकी बाइक पर निकाल दी थी. आगेवाले चक्के के एलॉय व्हील को टेढ़ा कर दिया. पीछे की लाइट फोड़ दी. इंडिकेटर तोड़ दिया. गाड़ी जमीन पर गिरा दी. इस पर भी दिल नहीं भरा तो उपद्रवी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गुटखा खाकर गाड़ी पर थूक दिया. अब ऐसे में इस पार्टी के कार्यकर्ताओं को अगर हुड़दंगी करार न कहा जाये तो फिर क्या कहा जाये.

इसे भी पढ़ें – प्लास्टिक पार्कः राज्य सरकार ने बनायी थी 120 करोड़ खर्च करने की योजना, केंद्र की कटौती के बाद अब 67.33 करोड़ में ही करनी होगी पूरी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
झारखंड की बदहाली के जिम्मेदार कौन ? भाजपा, झामुमो या कांग्रेस ? अपने विचार लिखें —
झारखंड पांच साल से भाजपा की सरकार है. रघुवर दास मुख्यमंत्री हैं. वह हर रोज चुनावी सभा में लोगों से कह रहें हैं: झामुमो-कांग्रेस बताये, राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन कह रहें हैं: 19 साल में 16 साल भाजपा सत्ता में रही. फिर भी राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
लिखने के लिये क्लिक करें.

you're currently offline

%d bloggers like this: