न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुशील मोदी ने शत्रुघ्न सिन्हा पर जमकर निशाना साधा, कहा- औकात पता चल जायेगा

327

Patna: उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जहां भाजपा के बागी नेता और पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा को जमकर खरी-खोटी सुनाई तो वहीं राजद सुप्रीमो लालू यादव की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा ने लालटेन (राजद का चुनाव चिह्न) को चुन लिया है, चुनाव में उन्हें अपनी औकात का पता चल जायेगा.

वहीं, लालू की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि वह राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को उनकी पत्नी राबड़ी देवी से अधिक जानते हैं. लालू प्रसाद ने कभी अपने आपको नहीं सुधारा. वह 1973 में जैसे थे, आज भी वैसे हैं. हां, उनकी एक खास बात है कि जब सामने आते हैं तो उनके चेहरे पर कोई कड़वाहट नहीं होती. हालांकि हमने चारा घोटाला में उन्हें जेल भिजवाया, उनके खिलाफ और कई मामलों को सामने लाया.

इसे भी पढ़ें: News Wing Impact : IAS हों या सहायक, बिना सूचना बंक मारा तो कटेगा वेतन, ट्रेजरी से जुड़ेगा बायोमिट्रिक अटेंडेंस

सुशील मोदी लालटेन लेकर घूमें, औकात पता चल जायेगा

शनिवार को भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा पर सुशील मोदी ने तीखा प्रहार किया. कहा कि मैं उन्हें चुनौती देता हूं. बिहार की जनता उनसे बदला लेने का इंतजार कर रही है. सुशील कुमार मोदी ने कहा कि आने वाले चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा को अपनी लोकप्रियता का पता चल जाण्‍गा. वह लालटेन लेकर घूमें, उन्हें अपनी औकात का पता चल जाएगा.

एक अंग्रेजी मैगजीन के ‘स्टेट आफ स्टेट कान्क्लेव’ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से अधिक लोकप्रिय करार दिया. एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर नरेंद्र मोदी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से अधिक लोकप्रिय हैं. वैसे दोनों के काम करने का तरीका अलग है, दोनों की तुलना उचित नहीं है. नीतीश कुमार के संबंध में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उनसे रिश्ते पहले से भी बेहतर हुए हैं.

राम मंदिर के संबंध में केंद्रीय राज्यमंत्री गिरिराज सिंह द्वारा दिए गए बयान को उन्होंने उनका व्यक्तिगत बयान करार दिया. सुशील कुमार मोदी ने कहा कि पार्टी इस मामले में घोषणा पत्र से बंधी है. हमारा मानना है कि या तो आपसी बातचीत से मसले का हल निकले या सुप्रीम कोर्ट का फैसला माना जाये. हमें पूरी उम्मीद है कि फैसला हमारे पक्ष में आयेगा. यह पूछे जाने पर कि संघ अध्यादेश लाने की मांग कर रहा है, उन्होंने कहा कि इसपर मैं कोई टिप्पणी नहीं कर सकता. इसका जवाब पार्टी का संसदीय बोर्ड ही दे सकता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: