न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तलाक की अर्जी पर बोले तेजप्रतापः मैं घुट-घुट कर नहीं जीना चाहता

ऐश्वर्या के साथ रहना नामुमकिन- तेजप्रताप

255

Gaya: आरजेडी सुप्रीमो के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव द्वारा दायर की गई तलाक की अर्जी से हर कोई सकते में है. एक ओर जहां लालू परिवार ने इस मामले पर चुप्पी साध रखी है. वही मीडिया से बात करते हुए तेजप्रताप ने कहा कि ये सच है कि उन्होंने तलाक की अर्जी दी है.

इसे भी पढ़ेंःलालू के बेटे तेजप्रताप ने दी तलाक की अर्जी, पांच महीने बाद ऐश्‍वर्या से चाहते हैं दूरी

घुट-घुट कर नहीं रह सकता


ऐश्वर्या के साथ अपने रिश्तों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि ऐश्वर्या के साथ रहना नामुमकिन है. मैं घुट-घुट कर नहीं जीना चाहता. तेज प्रताप ने कहा कि अब कोर्ट फैसला करेगा कि ऐसे घुट-घुट कर जीना बेहतर है या फिर तलाक ले लेना. तेज प्रताप ने कहा कि ऐश्वर्या राय के साथ रहना उनके लिए नामुमकिन है.

लालू यादव ने किया तलब

तलाक की खबर पर लालू परिवार में मानो भूचाल आ गया है. ऐसी खबरें आ रही हैं कि तेजप्रताप के तलाक लेने के फैसले से राजद प्रमुख लालू यादव भी खासे नाराज हैं. वही ये खबर सुनकर उनकी तबीयत भी बिगड़ गई है. रांची के रिम्स में इलाजरत लालू यादव ने तेजप्रताप को पूरे मामले पर बात करने के लिए मिलने बुलाया है.

इसे भी पढ़ेंःचारा घोटाला : झारखंड अपर मुख्य सचिव एवं बिहार पूर्व डीजीपी के खिलाफ मुकदमा चलाने का आदेश निरस्त

तेज प्रताप नहीं माने

गौरतलब है कि जैसे ही तेज प्रताप यादव की तलाक की अर्जी की बात सामने आयी, दोनों परिवार की ओर से रिश्ते को बचाने की कोशिशें तेज हो गई. रात को ही तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या अपने माता-पिता के साथ राबड़ी आवास पहुंची. जहां तेजप्रताप को मानने की लाख कोशिशें हुई. तेजप्रताप के ससुर चंद्रिका राय रातभर इस कोशिश में लगे रहे कि दामाद मान जाए लेकिन शनिवार को तेजप्रताप के दिये बयान से ये साफ हो गया है कि उन्हें मनाने की सारी कोशिश विफल साबित हुई हैं.

29 नवंबर को मामले की सुनवाई

तेज प्रताप की अर्जी पर 29 नवंबर को कोर्ट में सुनवाई भी होने वाली है. हालांकि कानून के जानकारों की मानें तो हिंदू मैरेज एक्ट के प्रावधानों के अनुसार, तलाक के लिए कम से कम शादी की अवधि एक साल तक होनी चाहिए. बहुत कम ही ऐसे केस हैं, जहां एक साल के पहले तलाक हुए हैं. बता दें कि तेजप्रताप ने अपनी तलाक की अर्जी में पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है.

इसे भी पढ़ेंःपरिवारवाद पर हेमंत ने कहा- शेर का बच्चा क्या कुत्ता पैदा होगा,…

महज पांच महीने पहले हुई थी शादी

ज्ञात हो कि ऐश्वर्या और तेज प्रताप की शादी 12 मई 2018 को पटना में हुई थी. शादी के कुछ रोज बाद ही जब बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी अपनी बहू को लेकर बांके बिहारी मंदिर पहुंची थीं तो उन्होंने एश्वर्या को अपने परिवार की ‘लक्ष्मी’ कहा था. राबड़ी देवी ने कहा कि जब से एश्वर्या उनके घर बहू बनकर आयीं हैं, उनके घर में सबकुछ अच्छा हो रहा है. लेकिन सिर्फ पांच महीने में हालात ऐसे बदल गये की नौबत तलाक तक आ पहुंची.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: