NationalTop Story

गोडसे वाले बयान पर साध्वी प्रज्ञा ने लोकसभा में मांगी माफी, कहा- बयान को गलत पेश किया गया, राहुल गांधी पर साधा निशाना

विज्ञापन

New Delhi: महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले अपने बयान पर भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ने लोकसभा में माफी मांगी है. शुक्रवार को लोकसभा में अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि किसी को चोट पहुंची है तो मैं माफी चाहती हूं. साथ ही राहुल गांधी का नाम लिये बिना ही, उनके आतंकी वाले बयान पर निशाना साधा.

इसे भी पढ़ेंःसभी पार्टियों के घोषणापत्र में क्या-क्या है समान, किन खास मुद्दों को दिया है अलग से स्थान, पढ़िये रिपोर्ट

advt

मेरे बयान को गलत तरीके से लिया गया- साध्वी प्रज्ञा

लोकसभा में अपने बयान पर सफाई देते हुए बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि महोदय इस घटनाक्रम में सबसे पहले मेरे बयान से यदि किसी प्रकार से कोई चोट पहुंची हो तो मैं क्षमा चाहती हूं. लेकिन मैं यह भी कहना चाहती हूं कि सदन में मेरे बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया. और यह निंदनीय है. महात्मा गांधी द्वारा देश के लिए काम का मैं सम्मान करती हूं.

साथ ही राहुल गांधी का नाम लिये बिना भोपाल सांसद ने उनपर निशाना साधा. उन्होंने आगे कहा कि इसी सदन के एक सदस्य द्वारा मुझे सार्वजनिक तौर पर आतंकवादी कहा गया. मेरे खिलाफ अदालत में कोई आरोप सिद्ध नहीं हुआ है. बिना आरोप साबित हुए मुझे अपमानित किया गया है.

बता दें कि गोडसे वाले बयान के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रज्ञा ठाकुर को आतंकी बताया था.
प्रज्ञा ठाकुर ने एक ओऱ माफी मांगी वहीं दूसरी ओर कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से लिया गया. जिसके बाद कांग्रेस के सदस्यों की ओर से हंगामा किया गया.

इसे भी पढ़ेंः#Unemployment: सफाई कर्मचारियों के 549 पद के लिए 7000 इंजीनियर, ग्रेजुएट और डिप्लोमा होल्डर ने किया आवेदन

बयान पर विपक्ष का हंगामा

बीजेपी सांसद द्वारा माफी मांगने के बाद कांग्रेस सांसदों द्वारा लोकसभा में भारी हंगामे के बीच काफी नारेबाजी हुई. सांसदों ने सदन में महात्मा गांधी की जय और डाउन-डाउन गोडसे के नारे लगाए गए.

इस पर लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि अब साध्वी प्रज्ञा ने इस पर माफी मांग ली है और अब इस मसले पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि यदि इस मसले पर हम राजनीति करेंगे तो फिर पूरे विश्व में सही संदेश नहीं जाएगा. वहीं बीजेपी ने कहा कि माफी मांगने के बाद भी विपक्ष का रवैया सही नहीं है.

आतंकवादी कहना बदतर- निशिकांत

वहीं गोड्डा से बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे ने राहुल गांधी द्वारा महिला सांसद प्रज्ञा ठाकुर को आतंकवादी कहे जाने का मसला लोकसभा में उठाया. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को इस सदन में आकर माफी मांगना चाहिए. एक महिला को आतंकवादी कहना. इस सदन के सदस्य को आतंकवादी कहना यह महात्मा गांधी की हत्या से भी बदतर है.

इसे भी पढ़ेंःअनुबंध के बाद कंपनियां कर पायेगी कर्मचारियों की छंटनी, लोकसभा में औद्योगिक संबंध संहिता 2019 बिल पेश

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close