न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने दी चेतावनी, कहा- गंभीर संकट की तरफ बढ़ रही भारत की अर्थव्यवस्था

11,082

New Delhi: आरबीआइ के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने देश की अर्थव्यवस्था को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने देश के राजकोषीय घाटे को लेकर गहरी चिंता जतायी है. उनका कहना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था गंभीर संकट की ओर बढ़ रही है.

उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि बढ़ता राजकोषीय घाटा एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के लिए चिंता का सबसे बड़ा कारण है और यही उसे पीछे की ओर धकेल रहा है. श्री राजन ने ब्राउन यूनिवर्सिटी में ओपी जिंदल लेक्चर के दौरान यह टिप्पणी की.

Sport House

इसे भी पढ़ें – बकोरिया कांड: CBI ने तेज की जांच, आमने-सामने बैठाकर करेगी पूछताछ

आर्थिक नजरिये में अनिश्चितता

उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के गंभीर संकट का कारण अर्थव्यवस्था को लेकर नजरिये में अनिश्चितता है. उन्होंने कहा कि पिछले कई साल तक अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था में काफी सुस्ती आयी है. साल 2016 की पहली तिमाही में विकास दर 9% रही थी.

विकास के नये स्रोत का पता लगाने में नाकामी

उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में विकास दर छह साल के निचले स्तर 5% पर पहुंच गयी है और दूसरी तिमाही में इसके 5.3% के आसपास रहने की उम्मीद है. दिक्कतों की शुरुआत कहां से हुई के बारे में चर्चा करते हुए राजन ने कहा कि पहले की दिक्कतों का समाधान नहीं किया गया. उन्होंने कहा कि असल दिक्कत यह है कि भारत विकास के नये स्रोतों का पता लगाने में नाकाम रहा है.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ें – #Bollywood अभिनेत्री अमीषा पटेल के खिलाफ रांची कोर्ट से अरेस्ट वारंट जारी, प्रोड्यूसर ने दर्ज करवायी थी एफआइआर

बढ़ाना होगा निवेश, खपत और निर्यात

राजन ने कहा कि भारत के वित्तीय संकट को एक लक्षण के रूप में देखा जाना चाहिए, न कि मूल कारण के रूप में.’ उन्होंने विकास दर में आयी गिरावट के लिए निवेश, खपत और निर्यात में सुस्ती तथा एनबीएफसी क्षेत्र के संकट को जिम्मेदार ठहराया.

इसे भी पढ़ें – #Modi-XiJinpingMeeting ‘चेन्नई कनेक्ट’ के साथ शुरू होगा भारत-चीन सहयोग का नया युग

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like