न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#ElectionResults देख JMM ने कहा, ‘बुनियादी सवालों को उठाने वाले दल आएं एक साथ’

हरियाणा और महाराष्ट्र के नतीजों के बाद जेएमएम का बीजेपी पर निशाना

527

Ranchi : झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के आये नतीजों का स्वागत कर इसे लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत बताया है.

पार्टी महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि चुनावी नतीजों ने निरंकुश शासन वाले बीजेपी के दंभ को तोड़ दिया है.

Sport House

दोनों राज्यों के नतीजे से बीजेपी नेता हताशा में है. अब वे चाहते हैं कि झारखंड में चुनाव कुछ विलंब से कराया जाए क्योंकि उनके पास हिम्मत नहीं बची है.

बीजेपी के खिलाफ मजबूत गठबंधऩ की वकालत करते हुए जेएमएम नेता ने कहा कि राज्य के बुनियादी सवालों को उठाने वाले दलों को एक साथ आना चाहिए.

उन्होंने दावा किया कि झारखंड में जो भी गठबंधन बनेगा वह जनता की आकांक्षा के अनुरूप बनेगा और यह गठबंधन जेएमएम के नेतृत्व में बनेगा.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ें : #JPSC: 18 साल में ली 6 परीक्षाएं, 4 विवादित, अब दावा 6 महीने में होंगी एक साथ 3 परीक्षाएं

झारखंड चुनाव के बाद जनता बीजेपी को करेगी तड़ीपार

जेएमएम प्रवक्ता ने कहा कि दो राज्यों के आये नतीजों ने पिछले कई सालों से लोकतंत्र को निरंकुश बनाने के चलन पर ठहराव लगाने का काम किया है.

चुनाव नतीजे के पहले बीजेपी नेता महाराष्ट्र और हरियाणा से क्रमशः 200 और 75 सीटों के दंभ भरते थे, लेकिन नतीजों ने बीजेपी को आधे में समेटने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री घमंड से शासन चलाते हुए 65 पार का दावा करते है. लेकिन यह तय है कि दो राज्यों के नतीजों की तरह यहां की जनता भी चुनाव बाद बीजेपी को तड़ीपार कर देगी.

इस दौरान सुप्रियो ने राज्य के बुनियादी सवालों को उठाने वाले सभी दलों को एक साथ बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ने का भी आह्वान किया.

इसे भी पढ़ें : #Jamshedpur: कोल्हान में नेताओं की लंबी लिस्ट में उलझी BJP, चेहरे के संकट से जूझ रहा JMM, चाईबासा में CONG की हुंकार

नये नये नारों से लोगों को बरगला कर वोट मांग रही बीजेपी

सुप्रियो ने कहा कि किसी भी राज्य में चुनाव पूर्व बीजेपी सोचती है कि रोजगार, महगांई, आर्थिक व्यवस्था, किसानों की व्यवस्था पर बात नहीं कर नये-नये नारों से लोगों को बरगला कर वोट लिया जायेगा.

महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनावी प्रचार के दौरान बीजेपी नेताओं के द्वारा वैसी भाषाओं का प्रयोग किया, जिस तरह से गली-मोहल्ले के असामाजिक लोग करते हैं.

विपक्ष के एक नेता को डूब मरने की बात कही जाती है. इसी तरह लोकसभा चुनाव के दौरान जेएमएम अध्यक्ष गुरुजी के ऊपर गलत भाषा का प्रयोग किया गया.

चुनावी नतीजों से साबित होता है कि बीजेपी नीति के खिलाफ लोगों का गुस्सा काफी अधिक है.

इसे भी पढ़ें : #ViralVideo: मुख्यमंत्री जोहार जनआशीर्वाद यात्रा में क्या नहीं जुट रही भीड़, महिलाओं को साड़ी का लालच देकर बुलाया!

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like