National

पंजाब: पुलिस टीम पर हमला करने और ASI के हाथ काटने के मामले में सात गिरफ्तार

विज्ञापन

Chandigarh: पंजाब के पटियाला जिले में पुलिस टीम पर हमला करने और सहायक उपनिरीक्षक के हाथ काटने के मामला सामने आया है. इसे लेकर राज्य के एक गुरुद्वारे से पांच निहंग सिख समेत सात लोगों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया.

अधिकारियों ने बताया कि सात में से पांच वे लोग हैं जो रविवार तड़के पटियाला की सब्जी मंडी के बाहर हुए हमले में शामिल थे.

इसे भी पढ़ें- लॉकडाउन में लाइट, साउंड, कैमरा, एक्शन….सब हुआ पैकअप, झारखंड में 10 हजार से अधिक कामगारों के सामने अब भविष्य की चिंता

क्या है मामला

लॉकडाउन के कारण पुलिस ने मंडी के बाहर अवरोधक लगाये थे और लोगों से कर्फ्यू पास दिखाने के लिए कह रहे थे. पुलिस ने बताया कि चार-पांच ‘निहंगों’ (परंपरागत हथियार रखने वाले और नीली लंबी कमीज पहनने वाले सिख) का एक समूह एक वाहन में यात्रा कर रहा था और मंडी के अधिकारियों ने सुबह करीब सवा छह बजे सब्जी बाजार के पास उन्हें रुकने के लिये कहा.

पटियाला के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनदीप सिंह सिद्धू ने कहा कि उनसे (कर्फ्यू) पास दिखाने को कहा गया, लेकिन उन्होंने अपनी गाड़ी से दरवाजे और वहां लगाये गये अवरोधकों पर टक्कर मार दी. इसके बाद इन लोगों ने ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया.

उन्होंने कहा कि तलवार से एक सहायक उप निरीक्षक (एएसआइ) का हाथ काट डाला गया. पटियाला सदर थाने के प्रभारी की कोहनी में चोट आयी है जबकि एक अन्य पुलिस अधिकारी की बांह में भी इस हमले में चोट आयी है. एएसआइ को राजेंद्र अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे पीजीआइएमईआर चंडीगढ़ के लिये रेफर कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें- कोरोना से जुड़े घटनाक्रमों से तय होगी शेयर बाजारों की दिशा : विशेषज्ञ

बलबेरा गांव के गुरुद्वारे से किया गया गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि हमलावर पास के बलबेरा गांव में फरार हो गये और उन्हें वहां के गुरुद्वारे से गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि सिद्धू के नेतृत्व में पुलिस की कई टीमों को परिसर से निहंगों को बाहर निकालने के लिए तैनात किया गया. साथ ही बताया कि गुरुद्वारा के आस-पास लोगों की आवाजाही रोक दी गयी थी.

पंजाब पुलिस के महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने ट्वीट में कहा कि आज सुबह हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में, निहंगों के एक समूह ने पटियालाय के सब्जी मंडी में कुछ पुलिस अधिकारियों और मंडी बोर्ड के एक अधिकारी पर हमला कर दिया. एएसआइ हरजीत सिंह जिनके हाथ काट दिए गए वह पीजीआई चंडीगढ़ पहुंच चुके हैं.

गुप्ता ने अन्य ट्वीट में कहा कि मैंने पीजीआइ के निदेशक से बात की है जिन्होंने सर्जरी के लिए पीजीआइ के शीर्ष प्लास्टिक सर्जनों को इस काम में लगाया है, सर्जरी शुरू हो चुकी है.

गुप्ता ने कहा कि पूर्ण सहयोग के लिए पीजीआइ का आभार. पीजीआइ निदेशक ने बताया कि दो वरिष्ठ सर्जनों ने सर्जरी शुरू कर दी है जो अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे. हम सभी उनके पूर्ण स्वस्थ होने की वाहेगुरु से प्रार्थना कर रहे हैं. यह वारदात तब हुई जब कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर राज्य में पाबंदियां लागू हैं.

इसे भी पढ़ें- तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल व्यक्ति ने संक्रमित पाए जाने के बाद आत्महत्या की

advt
Advertisement

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: