BusinessNEWS

कोरोना से जुड़े घटनाक्रमों से तय होगी शेयर बाजारों की दिशा : विशेषज्ञ

New Delhi :  शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह कोविड-19 से जुड़े घटनाक्रमों से तय होगी. विशेषज्ञों का कहना है कि कम कारोबारी सत्र वाले सप्ताह के दौरान बाजार में काफी हद तक उतार-चढ़ाव रहेगा.

विशेषज्ञों ने कहा कि यदि देश में लागू लॉकडाउन को आंशिक रूप से हटाया जाता है और आर्थिक गतिविधियां शुरू होती हैं, तो बाजार की धारणा कुछ सुधर सकती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच शनिवार को हुई बैठक में देश में लागू बंद को अप्रैल के अंत तक बढ़ाने पर सहमति बनी है. ऐसे में इस बात की काफी संभावना है कि लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे बढ़ाया जाएगा.

advt

इसे भी पढ़ेंः CBSE का आदेश- इंटरनल असेसमेंट में फेल छात्र भी अगली क्लास में होंगे प्रमोट

हालांकि, इस बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि अब ध्यान ‘जान है तो जहान है’ की रएानीति से ‘जान भी, जहान भी’ की रणनीति पर केंद्रित होगा. इससे इस बात के संकेत मिलते हैं कि कुछ क्षेत्रों में बंद में छूट दी जा सकती है. ‘अंबेडकर जयंती’ पर मंगलवार को बाजार बंद रहेंगे.

केंद्र द्वारा वृद्धि को प्रोत्साहन देने के लिए दूसरा राहत पैकेज तैयार किए जाने की खबरों के बीच बीते सप्ताह शेयर बाजारों में अच्छा-खासा सुधार दर्ज हुआ.

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार में यह तेजी कुछ समय के लिए है और संभवत: अधिक टिकने वाली नहीं है. ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों और सूक्ष्म, लघु और मझोले उपक्रमों (एमएसएमई) के लिए जल्द राहत पैकेज की घोषणा हो सकती है.’’

adv

नायर ने कहा कि बाजार इस वायरस से संबंधित खबरों और लॉकडाउन में किसी तरह की ढील आदि की खबरों से ऊपर-नीचे होगा.

इसे भी पढ़ेंः लॉकडाउन में लाइट, साउंड, कैमरा, एक्शन….सब हुआ पैकअप, झारखंड में 10 हजार से अधिक कामगारों के सामने अब भविष्य की चिंता

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के प्रमुख (खुदरा शोध) सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘‘निवेशक इस बात को लेकर चिंतित हैं कि देश में कोरोना वायरस के बढ़त मामलों की वजह से बंद को आगे बढ़ाया जा सकता. ऐसे में बाजार में उतार-चढ़ाव रहेगा.

इसके अलावा बाजार की निगाह वैश्विक स्तर पर इस महामारी की स्थिति और राहत पैकेज पर भी रहेगी.’’ सप्ताह के दौरान सोमवार को मार्च की मुद्रास्फीति दर और मंगलवार को थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े आएंगे.

सैमको सिक्योरिटीज एंड स्टॉकनोट के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिमीत मोदी ने कहा कि लॉकडाउन को लेकर किसी तरह की हैरान करने वाली नकारात्मक खबर से भी बाजार पर असर पड़ेगा.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार रविवार तक देश में कोरोना वायरस से 273 लोगों की जान जा चुकी है. देश में 8,356

लोग इससे संक्रमित हैं. वैश्विक स्तर पर इस महामारी से 1,03,000 लोगों की मौत हुई है तथा 17 लाख लोग इससे संक्रमित हैं.

बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स 3,568.67 अंक या 12.93 प्रतिशत के लाभ में रहा.

इसे भी पढ़ेंः चीन में फिर से पैर पसार रहा कोरोना, 24 घंटे में 99 नये मामलों की पुष्टी

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button