Corona_Updates

तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल व्यक्ति ने संक्रमित पाए जाने के बाद आत्महत्या की

विज्ञापन

Akola : दिल्ली में तबलीगी जमात के धार्मिक कार्यक्रम में शामिल 30 वर्षीय व्यक्ति ने खुद के कोरोना वायरस संक्रमित होने का पता चलने के बाद महाराष्ट्र के अकोला जिले के सरकारी अस्पताल में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली.

अकोला गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसीएच) के डीन डॉ अपूर्व पावड़े ने बताया कि असम के नगांव जिले का रहने वाला यह शख्स छह से आठ मार्च के बीच दिल्ली में था जहां वह निजामुद्दीन में आयोजित धार्मिक सभा में शामिल हुआ था.

पाड़वे ने कहा कि उसे सात अप्रैल को यहां जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था और शुक्रवार को कोरोना वायरस की जांच में संक्रमित पाया गया.

advt

इसे भी पढ़ेंः CM हेमंत सोरेन की अपील : श्रमिक बोझ नहीं बल्कि लक्ष्मी हैं, उन्हें हर सुविधा मुहैया करायें उद्योग समूह

उन्होंने कहा, “शनिवार को सुबह पांच बजे पीड़ित ने कथित तौर पर ब्लेड से अपना गला काट लिया. अस्पताल के एक कर्मचारी ने उसे शौचालय की फर्श पर पड़ा देखा. ऑपरेशन के दौरान सुबह आठ बजे के करीब उसकी मौत हो गई.”

अधिकारी ने बताया कि इलाज के दौरान वह तनाव में था और चिकित्सीय विशेषज्ञ उसकी काउंसलिंग कर रहे थे.

यहां कोतवाली पुलिस थाने के एक वरिष्ठ अथधिकारी ने कहा कि यह आत्महत्या का मामला लगता है और इस दिशा में जांच जारी है.

adv

अन्य अधिकारी ने कहा कि नौ मार्च से सात अप्रैल के बीच, यह शख्स यहां बोलापुर कस्बे के एक मदरसे में रहा और उसके संपर्क में आए लोगों को जीएमसीएच रेफर किया गया है.

अकोला के जिलाधिकारी जितेंद्र पापलकर ने कहा कि मृतक के परिवार के सदस्यों से लिखित अनुमति मिलने के बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

अकोला जिल में अब तक 13 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना वायरस: इंदौर में दो और मरीजों की मौत, मृतक संख्या 32 पर पहुंची

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button