Education & CareerJharkhandMain SliderRanchi

JPSC के सिलेबस में बड़े बदलाव की तैयारीः पहले मेंस से ऑप्सनल हटा- सीसेट रद्द हुआ, फिलहाल मेंस में जेनरल नॉलेज का पेपर

RAVI ADITYA

RANCHI: 18 साल में सिर्फ पांच सिविल परीक्षाएं, छठी परीक्षा की प्रक्रिया अब भी अधूरी. यह झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की कहानी है. अब तक जेपीएससी मुख्य परीक्षा के सिलेबस में तीन बड़े बदलाव कर चुका है. अब चौथी बार मुख्य परीक्षा के लिये सिलेबस में एक और बड़ा बदलाव करने के मूड में है. यह सिलेबल छठी जेपीएससी से ही लागू हो सकता है. इसके लिए जेपीएससी ने कार्मिक से पत्राचार भी किया है. यह प्रस्ताव अब कैबिनेट में रखा जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःJPSC मुख्य परीक्षा पर संशय, परीक्षा हुई तो 2 लाख 7 हजार 804 कॉपियां चेक में लगेगा कितना…



शुरूआत में मुख्य परीक्षा में ऑप्सनल पेपर लेने की छूट थी. इसके बाद पांचवीं परीक्षा में सीसैट लागू करने की प्रक्रिया शुरू हुई. इस पर विधानसभा में काफी हंगामा हुआ. सात दिनों तक विधानसभा की कार्यवाही बाधित रही. फिर सरकार ने सीसैट वापस लिया. इसके बाद छठी जेपीएससी के मेंस के लिए नया सिलेबस बनाया गया. इसमें जेनरल नॉलेज में छह पेपर रखा गया है.

क्या होगा नये सिलेबस में





जानकारी के अनुसार, परीक्षा में हो रही देरी को ध्यान में रखते हुए जेपीएससी मुख्य परीक्षा का पैटर्न सब्जेक्टिव से ऑब्जेक्टिव करने पर विचार कर रहा है. वर्तमान में छतीसगढ़, महाराष्ट्र एवं उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की सामान्य अध्ययन की मुख्य परीक्षा ऑब्जेक्टिव ही ली जाती है. इसके पीछे तर्क यह है मुख्य परीक्षा की प्रकिया जल्द से जल्द पूरी हो सकेगी.

इसे भी पढ़ेंःबकोरिया कांडः डीजीपी के कारण गृहमंत्री की हैसियत से मुख्यमंत्री रघुवर दास भी आ सकते हैं जांच के…



क्या हो सकता है नये सिलेबस में

नये सिलेबस के अनुसार, हिन्दी और अंग्रेजी 100 नंबर का होगा. जो क्वालिफाईंग होगा. इसके अलावा भाषा और साहित्य का पेपर 150 नंबर का होगा. फिलहाल वर्तमान के सिलेबस में चार जेनरल नॉलेज के पेपर में 20 सवाल ऑब्जेक्टिव होंगे. हर सवाल दो नंबर का होगा. कुल 40 नंबर के ऑब्जेक्टिव सवाल होंगे. शेष 160 नंबर सब्जेक्टिव होंगे. लेकिन अब इसे बदलकर पूरा पेपर ऑब्जेक्टिव करने की तैयारी है. इस पर अभ्यर्थियों का कहना है कि जब मुख्य परीक्षा के सिलेबस में बीस प्रतिशत प्रश्न ऑब्जेक्टिव पूछे जाने हैं तो क्यों नहीं सभी सवालों को ऑब्जेक्टिव ही कर दिया जाये.



ऐसा है छठी जेपीएससी का सिलेबस

जेपीएससी ने जो मुख्य परीक्षा का सिलेबस बनाया है. उसमें जेनरल नॉलेज के तहत छह पेपर रखे गये हैं. कुल 950 अंकों की परीक्षा होगी. इंटरव्यू 100 नंबर का होगा.

इसे भी पढ़ें :बकोरिया कांड : न्यूज विंग ने न्याय के लिए चलाया था अभियान, पढ़िये सभी खबरें एक साथ



पहला पेपर: सामान्य हिंदी और सामान्य अंग्रेजी: कुल अंक (100) (क्वालीफाई)
दूसरा पेपर: भाषा एवं साहित्य: कुल अंक (150)
तीसरा पेपर: समाज विज्ञान (इतिहास एवं भूगोल): कुल अंक (200)
चौथा पेपर: भारतीय संविधान एवं राजनीति, लोक प्रशासन एवं गुड गवर्नेंस, कुल अंक (200)




पांचवा पेपर: भारतीय अर्थव्यवस्था, भूमंडलीकरण एवं सतत विकास: कुल अंक(200)
छठा पेपर: सामान्य विज्ञान, पर्यावरण एवं तकनीकी विकास: कुल अंक( 200)

इसे भी पढ़ेंःधौनी झारखंड से और गौतम गंभीर दिल्‍ली से लड़ सकते हैं चुनाव




Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close