न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

योग दिवस के आयोजन पर बोला विपक्ष : स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च होते ये करोड़ों रुपये, तो राज्य में नहीं होता कुपोषण

बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कांग्रेस और जेएमएम ने पीएम और सीएम पर हमला बोला

244

Ranchi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रांची में आयोजित योग दिवस कार्यक्रम में हुए करोड़ों खर्च को लेकर विपक्ष ने रघुवर सरकार पर निशाना साधा है. विपक्षी नेताओं ने कहा कि पीएम रांची आये हुए हैं और मुजफ्फरपुर पास में ही, उन्हें वहां जाकर लोगों का सांत्वना देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर वे मारे गये बच्चों के परिजनों को सुविधाएं नहीं दे सकते, तो कम से कम सांत्वना तो देनी ही चाहिए. वहीं इन नेताओं ने राज्य के सबसे बड़े हॉस्पिटल रिम्स की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं की भी चर्चा की.

इसे भी पढ़ें – News Wing Impact: जलमीनार में कमीशनखोरी को लेकर विभाग सतर्क, तकनीकी अफसर से सहयोग लेने के आदेश

चरम स्थिति पर पहुंच चुकी है रिम्स की बदहाली

जेएमएम ने पीएम के योग कार्यक्रम पर हुए करोड़ों खर्च को लेकर दो ट्वीट किये. पहले ट्वीट में पार्टी ने मुख्यमंत्री रघुवर दास से अपील कर कहा कि जितने रुपये वे योग दिवस के नाम पर खर्च कर रहे हैं, वही रुपये अगर वे राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए खर्च करते, तो बिहार में कुपोषण से मरनेवाले बच्चों जैसे हालात झारखंड में नहीं होंगे. दूसर ट्वीट में पार्टी ने पीएम मोदी से कहा कि रांची दौरे के दौरान वे राज्य के सबसे बड़े हालत रिम्स में जाते, तो वे देखते कि राज्य की स्वास्थ्य सुविधाएं आज किस चरम दुर्दशा में पहुंच चुकी हैं.

इसे भी पढ़ें – मोदी सरकार-2 ने  ट्रिपल तलाक बिल लोकसभा में नये सिरे से पेश किया

SMILE

मुजफ्फरपुर पीड़ितों को सुविधाएं नहीं दे सकते, सांत्वना तो देनी चाहिए : फुरकान अंसारी

कांग्रेसी नेता और गोड्डा के पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने पीएम मोदी के रांची दौरे पर ट्वीट कर कहा कि राजधानी के पास ही मुजफ्फरपुर शहर है, जहां बच्चों की लगातार मौत से उनके मां-बाप का रो-रो कर बुरा हाल है. श्री अंसारी ने कहा कि अगर सरकार उन बच्चों को कोई सुविधा नहीं दे सकती, तो कम से कम उन्हें सांत्वना तो देनी ही चाहिए. ट्वीट में उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर मुजफ्फरपुर की स्थिति की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने निर्दयता की पराकाष्ठा स्थापित कर दी है.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा में रूडी ने पूछा- चमकी बुखार के लिए लीची को जिम्मेदार ठहराना साजिश तो नहीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: