BiharBokaroChaibasaCrime NewsGiridihHazaribaghJharkhandLead News

60 लाख के इंगोर्ड चोरी मामले में ओडिशा पुलिस ने गिरिडीह के गांधी स्टील फैक्ट्री मालिकों को दिया नोटिस

फैक्ट्री मालिकों के दिए कागजात से संतुष्ट नहीं हुई पुलिस, एक सप्ताह में मांगा जवाब

Giridih : गिरिडीह के औद्योगिक क्षेत्र के महतोडीह स्थित गांधी स्टील फैक्ट्री से बरामद 60 लाख के इंगोर्ड का खुलासा करने में ओडिशा पुलिस अब भी नाकाम रही है. वैसे ओडिशा के बड़बिल थाना के एसआई महेन्द्र साव का दावा है कि गांधी स्टील फैक्ट्री से बरामद इंगोर्ड वही इंगोर्ड है. जो 19 मार्च को बड़बिल थाना क्षेत्र के जगरन्नाथ स्टील फैक्ट्री से बिहार के पटना भेजा गया था.

पटना के लिए भेजा गए इंगोर्ड को गांधी स्टील फैक्ट्री के मालिकों ने 18 लाख में खरीदा था. लेकिन गांधी स्टील फैक्ट्री के मालिकों ने ओडिशा पुलिस को टैक्स बिल और ई-वे-बिल उपलब्ध तो कराया. लेकिन इन बिलों को ओडिशा पुलिस फिलहाल अूधरा बिल बता रही है. और फैक्ट्री मालिकों को ओडिशा पुलिस ने नोटिस देकर कई और कागजात मांगे है. जिसे साबित हो सके कि फैक्ट्री से बरामद इंगोर्ड चोरी के नहीं है. लिहाजा, अब गांधी स्टील फैक्ट्री मालिकों को नोटिस देकर सप्ताह दिनों के भीतर कागजात उपलब्ध कराने की बात कही है.

बड़बिल थाना के एसआई का यह भी कहना है कि कागजात उपलब्ध नहीं कराने पर कार्रवाई तय है. क्योंकि पटना जाने के क्रम में इंगोर्ड लोड ट्रक को झारखंड के चाईबासा के टोल नाका से गायब किया गया. ट्रक को गायब करने के बाद गांधी स्टील फैक्ट्री के भीतर घुसा कर इंगोर्ड डंप किया गया. इसके बाद ट्रक को हजारीबाग के बरही ले गए. जहां पूरे ट्रक का हुलिया बदल दिया गया. इस बात का खुलासा ओडिशा पुलिस के हत्थे चढ़े तीन आरोपियों ने किया है.

इसे भी पढ़ें :दीक्षा के 50 वर्ष हुए पूरे, राज्यपाल ने आचार्य श्री विधासागर कीर्ति स्तम्भ का किया अनावरण

ट्रक चालक सहित कई और आरोपी अब भी हैं फरार

ओडिशा के बड़बिल थाना के हत्थे चढ़े आरोपियों में बोकारो के दूग्धा निवासी अरविंद कुमार, टाटा नगर निवासी सूरज कुमार और ओडिशा के पंकज तिवारी शामिल है. जबकि ट्रक चालक अब भी फरार बताया जा रहा है. बड़बिल पुलिस का यह भी दावा है कि इस पूरे मामले में कई और आरोपी अब भी फरार हैं.

इसे भी पढ़ें :कोडरमा में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, एक दिन में 21 पाजिटिव केस मिलने से हड़कंप मचा

पंकज तिवारी ने इंगोर्ड खपाने में महत्पूर्ण भूमिका निभायी

पुलिस का कहना है कि ओडिशा के पंकज तिवारी ने इंगोर्ड खपाने में महत्पूर्ण भूमिका निभायी थी. पंकज ने ही गांधी स्ट्रील फैक्ट्री के मालिकों से संपर्क कर बड़बिल के जगरन्नाथ स्टील फैक्ट्री के इंगोर्ड से भरे ट्रक को घुसाया. ट्रक को गायब करने में अरविंद और सूरज समेत उसके संपर्क में रहे कुछ लोगों ने अहम रोल निभाया था. इंगोर्ड से लोड ट्रक भी बोकारो के दूग्धा का ही है.

इसे भी पढ़ें :

 

चाईबासा टोलनाका में लगे सीसीटीवी फुटेज से धराये थे अपराधी

इस पूरे मामले का खुलासा ओडिशा के बड़बिल पुलिस ने चाईबासा टोलनाका में लगे सीसीटीवी फुटेज से किया है. जिसमें पंकज अरविंद कुमार के साथ सूरज और पंकज तिवारी ट्रक को अगवा करते दिख रहा है. इसी फुटेज के आधार पर पुलिस ने पहले पंकज तिवारी को दबोचा. पूछताछ में पंकज तिवारी ने सारे राज उगले.

इसे भी पढ़ें :धनबाद :  स्टील गेट सब्जी मंडी में लगी भीषण आग, दो दर्जन से अधिक दुकानें जलकर खाक

 

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: