BiharCorona_Updates

मजदूरों के पलायन पर CM नीतीश ने कहा- ऐसे में PM का #LockDown21 हो जायेगा फेल

विज्ञापन

Patna: पूरे देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ रहा है. इसको देखते हुए पीएम मोदी ने 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया है. शनिवार को लॉकडाउन का चौथा दिन है लेकिन फिर भी कोरोना के केस में बढ़ोतरी ही देखी जा रही है.

कई लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं. देश के कई हिस्सों में मजदूर अपने परिवार के साथ पलायन कर रहे हैं. इसी को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉकडाउन में फंसे लोगों को बुलाने के फैसले को गलत ठहराया है. उन्होंने कहा कि अगर ऐसे ही मजदूरों का पलायन चलता रहा तो पीएमन का लॉकडाउन फेल हो जाएगा.

इसे भी पढ़ें- रेलवे ने तैयार किया नन एसी कोच में ICU आइसोलेशन वार्ड का मॉडल, जहां डॉक्टर्स का पहुंचना मुश्किल है वहां भेजे जायेंगे

advt

क्या कहा नीतीश कुमार ने

दरअसल मजदूरों के पलायन को देखते हुए यूपी और दिल्ली सरकार ने बसों की व्यवस्था की है. जिसपर नीतीश कुमार ने सवाल उठाया है. उन्होंने कहा है कि दिल्ली या फिर कहीं और से मजदुरों को बुलाने से कोरोना की समस्या और बढ़ सकती है.

इसलिए बिहार सरकार यह चाहती है कि जो जहां है वहीं रहे. उनके रहने खाने की व्यवस्था वहीं की जायेगी. अगर बिहार से प्यार है तो ऐसा न करें क्योंकि ऐसा करने पर लॉकडाउन फेल हो जायेगा.

नीतीश ने कहा कि जो भी लोग लॉकडाउन की वजह से फंसे हैं वो हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके अपनी लोकेशन बता सकते हैं. जिसके बाद उन तक मदद पहुंचायी जायेगी. अगर हेल्पलाइन नंबर पर फोन नहीं लगता है किसी कारण तो वो मुख्यमंभी ऑफिस में फोन लगाकर मदद मांग सकते हैं. उनकी हर संभव सहायता की जायेगी.

इसे भी पढ़ें- UP में #Lockdown के दौरान पुलिस से मारपीट में 15 लोगों पर केस, घाटी में अभद्र भाषा के इस्तेमाल पर पुलिसकर्मी बर्खास्त

adv

यूपी सरकार ने की 1000 बसों की व्यवस्था

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दूसरे राज्यों से लौटे, प्रदेश के और बिहार के लोगों के लिए रातों रात 1000 बसों का इंतजाम कर उन्हें उनके गंतव्य तक पहुंचाने की पहल की है.

लॉकडाउन के दौरान काम नहीं होने की वजह से उत्तर प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के आसपास के अन्य राज्यों में काम करने वाले उन मजदूरों का जत्था प्रदेश की सीमा से सटे जिलों में देखा जा सकता है जो पैदल ही अपने गंतव्य की ओर चल पड़ा है. ये लोग अपने घर वापस लौटना चाहते हैं. हालांकि लॉकडाउन के कारण लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बंद है. इसी को देखते हुए यूपी सरकार ने यह पहल की है.

इसे भी पढ़ें- #CoronaUpdate: केरल में पहली मौत, देश में मरने वालों की संख्या हुई 21, कर्नाटक ने बंद किया हाइवे

मजदूरों का पलायन बना चिंता का सबब

लॉकडाउन के बाद देश के कई हिस्सों में मजदूरों का पलायन शुरू हो गया है. मजदूर पैदल ही अपने-अपने परिवार के साथ अपने राज्य लौट रहे हैं. यह पलायन अब चिंता का सबब बन गया है.

इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका भी दाखिल की गयी है. याचिका में यह मांग की गयी है कि प्रशासन को कोर्ट के द्वारा यह आदेश दिया जाये कि जो भी मजदूर पलायन कर रहे हैं उन्हें हर जगह शेल्टर होम में रखकर हर तरह की सुविधा दी जाए.

न्यूज विंग की अपील

देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button