न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

नैक टीम ने किया एसएस मेमोरियल कॉलेज का निरीक्षण

 छात्रों ने बताई समस्याएं कहा, कॉलेज में कैंपस और क्लास की कमी, परेशान होते हैं छात्र

48

Ranchi : नेशनल असेसमेंट एडं एक्रीडिएशन काउंसिल (नैक) की टीम ने बुधवार को सूरज सिंह मेमोरियल कॉलेज का निरीक्षण किया. यह पहला अवसर था जब नैक की टीम ने सूरज सिंह मेमोरियल कॉलेज का निरीक्षण किया. टीम में नैक अध्यक्ष डॉ जितेंद्र कुमार पंचोली, नार्थ गुजरात यूनिवर्सिटी के प्रो वीसी हेम चंद्राचार्य, मेंबर कॉ-ओडिनेटर डॉ सुबोध कुमार भटनागर, डॉ एम नागाराजू ने कॉलेज का निरीक्षण किया.

eidbanner

नैक टीम की ओर से इस दौरान छात्रों से बात चीत की गयी. जिसमें छात्रों ने अपनी समस्याएं टीम को बताया. अधिकांश छात्रों ने इस दौरान कॉलेज में क्लास की कमी की बात उठाई. छात्रों की ओर से बताया गया कि क्लास कम होने के कारण छात्रों को परेशानी होती है. वहीं पीजी कक्षाएं शुरू होने के बाद से क्लास की और भी कमी कॉलेज में हो गयी है. विशेष परेशानी प्रैक्टिकल करने में होती है.

इसे भी पढ़ें – जेएमएमः गिरिडीह से जगरनाथ महतो, जमशेदपुर से चम्पई सोरेन, दुमका से शिबू…

एनटीसी की जगह ली जाती है एनएसएस की कक्षाएं

छात्रों ने नैक टीम को बताया कि कॉलेज में एनएसएस की कक्षाएं ली जाती है. जबकि नियमित रूप से एनटीसी की कक्षाएं ली जानी चाहिए. जो बाकी कॉलेजों में भी होती है. तो वहीं कुछ छात्रों ने परिसर और कॉलेज समय में परिवर्तन करने की बात कहीं.

कुछ छात्रों ने बताया कि कॉलेज में काफी सुदूर क्षेत्रों से छात्र पढ़ने आते हैं. ऐसे में कॉलेज काफी सुबह लगती है और कई छात्रों की कक्षाएं हमेशा छुट जाती है. ऐसे में समय में परिवर्तन करने की मांग कॉलेज प्रबंधन से की गयी.

इसे भी पढ़ें – अब 14 मई को होगी जगरनाथ महतो केस की हाईकोर्ट में सुनवाई, 12 मई को है…

Related Posts

पानी की विकराल समस्या : पानी का टैंकर देखते ही दौड़ पड़ते हैं वाल्मीकि बस्ती के लोग

दर्द भरी आवाज में महिला की अपील, भैया बस्ती में एक बोरिंग करा दीजिए

अभिभावकों से मिली टीम

निरीक्षण के दौरान नैक की टीम ने अभिभावकों से भी मुलाकात. इस क्रम में अभिभावकों से पूछा गया कि वे क्यों अपने बच्चों को इस कॉलेज में भेजते है. इस पर अभिभावकों ने जवाब दिया कि फीस कम होने के कारण बच्चे यहां आते है. यहां भी कुछ अभिभावकों ने कॉलेज में संसाधनों की कमी की बात कहीं.

इसे भी पढ़ें – जेएमएमः गिरिडीह से जगरनाथ महतो, जमशेदपुर से चम्पई सोरेन, दुमका से शिबू…

संतुष्ट दिखी टीम

टीम के निरीक्षण की जानकारी देते हुए प्राचार्य डॉ शमसुन नेहर ने कहा कि टीम अपने निरीक्षण के दौरान संतुष्ट दिखी. छात्रों और अभिभावकों से बात चीत के दौरान कॉलेज के कोई भी शिक्षक उपस्थित नहीं थे. ऐसे में क्या बात की गयी, इसकी जानकारी नहीं. टीम अपने अनुसार मूल्याकंन करेगी.

इसे भी पढ़ें – इरफान अंसारी के बगावती तेवर, कहा ‘खुद को मार…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: