JharkhandLead NewsRanchi

दस साल संविदा पर सेवा लेने के बाद एमआइएस कंसल्टेंट राजीव कुमार की सेवा की गयी समाप्त

ग्रामीण कार्य विभाग ने सेवा विस्तार नहीं दिया

Nikhil Kumar

Ranchi : ग्रामीण कार्य विभाग ने दस साल की सेवा लेने के बाद संविदा पर नियुक्त एमआइएस कंसल्टेंट राजीव कुमार की सेवा समाप्त कर दी है. ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम की स्वीकृति के बाद उन्हें सेवा से हटाने का फैसला लिया गया है. इस संबंध में ग्रामीण कार्य विभाग के अपर सचिव रामकुमार सिन्हा के हस्ताक्षर से आदेश जारी कर दिया गया है. राजीव कुमार को विगत 6 मई 2021 से दिनांक 05 मई 2022 तक सेवा अवधि विस्तार की स्वीकृति दी गयी थी. इस अवधि के बाद ग्रामीण कार्य विभाग ने अवधि विस्तार के बिंदु पर फाइल बढ़ायी थी, लेकिन इस पर सक्षम स्तर से अस्वीकृति दी गयी. इसके फलस्वरूप विभाग ने 6 मई से ही राजीव कुमार की सेवा समाप्त करने का निर्णय लिया है.

विभाग ने इसकी जानकारी सभी कोषागार पदाधिकारी, वरीय पदाधिकारी, इंजीनियरों को दे दी है. राजीव कुमार को कहा है कि वे सारे अभिलेख, सामग्रियों एवं उपस्करों को अविलंब विभाग में जमा करा दें.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें:India’s Most Haunted Railway Station : रांची से 90 किमी दूर है एक रेलवे स्टेशन जहां ट्रेन से रेस लगाती है एक प्रेतात्मा

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

दरअसल, राजीव कुमार की नियुक्ति 2012 में संविदा के आधार पर की गयी थी. उस वक्त एक साल के लिए इनकी नियुक्ति की गयी थी. यह शर्त थी कि अगर कार्य संतोषजनक रहा तो कार्यहित में इन्हें अवधि विस्तार दिया जा सकता है. तब से विभाग के प्रस्ताव पर विभागीय मंत्री के अनुमोदन के बाद इन्हें सेवा विस्तार मिलता रहा.

इस बार भी छह माई को इन्हें कार्यहित में छह जून 2022 से छह जून 2023 तक एक साल का अवधि विस्तार देने के लिए प्रस्ताव बनाया गया. विभागीय मंत्री के पास संचिका भेजी गयी.

इसे भी पढ़ें:बिहार का मोस्टवांटेड अपराधी कक्कू खान हरियाणा से गिरफ्तार, 10 साल से चल रहा था फरार

मंत्री ने संविदा पर नियुक्ति के नियम और अवधि विस्तार के बारे में जानकारी मांगी. विभाग ने अपने जवाब में कहा कि संविदा पर नियुक्ति और इसके अवधि विस्तार पर कोई ठोस नियम नहीं है.

वहीं, राजीव कुमार की नियुक्ति वॉक इन इंटरव्यूर के तहत की गयी थी और नियुक्ति नियमों का आंशिक अनुपालन हुआ था. विभाग ने इसके बावजूद कार्यहित में इन्हें लगातार सेवा विस्तार दिया. इसी के तहत इस बार भी सेवा विस्तार का प्रस्ताव बढ़ाया गया था. सूत्रों के अनुसार विभागीय मंत्री ने जरूरत के अनुसार एमआइएस कंसल्टेंट पद पर नियुक्ति नियमपूर्वक प्रशासी पदवर्ग समिति से पद सृजित कर नियुक्ति करने का निर्देश दिया. इसी के बाद राजीव कुमार की सेवा समाप्त करने का फैसला लिया गया है.

इसे भी पढ़ें:रांची: नगड़ी में पत्थर से कूचकर युवक की हत्या, पहले भी हो चुका था प्रेम सागर पर हमला

Related Articles

Back to top button