Khas-KhabarRanchi

झारखंड पुलिस मुख्यालय में कई महत्वपूर्ण पद हैं खाली,तो कई चल रहे प्रभार में

Saurav Singh

Ranchi: झारखंड पुलिस मुख्यालय में कई महत्वपूर्ण पद खाली है. वही कई पद प्रभार में चल रहे हैं. वर्तमान में हालत यह है कि रेल डीआइजी सहित पुलिस मुख्यालय के कई अहम पद भी प्रभार में ही चल रहे हैं.

जिनमें झारखंड जगुआर आइजी, डीआइजी, डीआइजी एसआइबी जैसा अहम पद भी प्रभार में चल रहा है. इतना ही नहीं जैप और आइआरबी के कमांडेंट का पद भी कई जिलों के एसपी को अतिरिक्त प्रभार के रूप में मिला है.

advt

इसे भी पढ़ेंःकमलनाथ ने #RSS को चेताया- आदिवासियों को हिंदू बताने के लिए अभियान चलाया तो होगी कानूनी कार्रवाई

झारखंड पुलिस मुख्यालय में कई महत्वपूर्ण पद हैं खाली

झारखंड पुलिस मुख्यालय में कई महत्वपूर्ण पद खाली पड़े हुए हैं. जिनमें एससीआरबी डीआइजी का पद लंबे समय से खाली पड़ा हुआ है. इसके अलावा इस वर्ष पिछले महीने में मुख्यालय के आइजी प्रोविजन अरूण कुमार सिंह और डीआइजी बजट मदन मोहन लाल सेवानिवृत हो गए,लेकिन इन दोनों पदों पर अभी किसी भी पदाधिकारी की पोस्टिंग नहीं हुई है.

वहीं डीआइजी संगीता कुमारी के निधन के बाद डीआइजी कार्मिक का पद भी खाली है. इसी तरह सीआइडी के आइजी रंजीत प्रसाद के सेवानिवृति के बाद संगठित अपराध आइजी का पद दिसंबर महीने के बाद से खाली है. 31 जनवरी के बाद सीआइडी के एक अन्य आइजी का पद भी रिक्त हो गया.

एसआइबी प्रमुख का पद भी अतिरिक्त प्रभार में

17 जुलाई 2017 को नक्सल उन्मूलन अभियान की कड़ी में राज्य सरकार की ओर से बड़ा फैसला लिया गया था. जिसके बाद स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो के गठन की मंजूरी दी गयी थी और विशेष शाखा के अलावा स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो का गठन किया गया था.

adv

इसे भी पढ़ेंःखुशी है कि भारत का बंटवारा हुआ, नहीं तो मुस्लिम लीग देश को चलने नहीं देती: नटवर सिंह

इस ब्यूरो का गठन झारखंड में सक्रिय नक्सलियों के बारे में पुलिस मुख्यालय को सूचना उपलब्ध कराने के लिए किया गया था. गौरतलब है कि स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो विशेष शाखा के अधीन काम करता है. लेकिन सीधे यह पुलिस मुख्यालय को भी रिपोर्ट सकता है.

झारखंड में विशेष शाखा को नक्सल अभियान के लिए ही बनाया गया था. लेकिन अब स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो को भी नक्सलियों की सूचनाएं इकट्ठा करने के लिए बनाया गया है. लेकिन वर्तमान में जो हालात है उसमें स्पेशल इंटीलिजेंस ब्यूरो प्रमुख का पद भी अतिरिक्त प्रभार में ही चल रहा है.

एससीआरबी डीआइजी का पद लंबे समय से खाली

एससीआरबी का पद लंबे समय से खाली पड़ा हुआ है. गौरतलब है कि एक अगस्त 2018 को चार दिन पहले एससीआरबी के डीआइजी से आइजी बने हेमंत टोप्पो रिटायर हो गये थे. हेमंत टोप्पो एससीआरबी में ही आइजी थे.
27 जुलाई को उन्हें डीआइजी से प्रोन्नत कर आइजी बनाया गया था. हेमंत टोप्पो के रिटायर होने के बाद से अब तक एससीआरबी डीआइजी का पद खाली पड़ा हुआ है.

एसपी के डीआइजी रैंक में प्रोन्नति का मामला भी लंबित

एसपी से डीआइजी रैंक में 2006 बैच के आइपीएस अधिकारियों का प्रमोशन होना है. प्रमोशन के लिए बोर्ड का गठन हो चुका है, लेकिन जनवरी में ही होने वाले प्रमोशन को एक महीने से अधिक वक्त से बाधित रखा गया है. डीआइजी स्तर पर प्रमोशन के बाद कई खाली पदों को भरा जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंःलातेहारः टोरी कोल साइडिंग पर आपराधिक गिरोह का हमला, गाड़ियों में लगायी आग

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button