न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तीन महीने में छह माह का सिलेबस पूरा करायेगी झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी

784

Ranchi: झारखंड के 44 पॉलिटेक्निक संस्थान के 05 हजार से अधिक स्टूडेंट्स के छह माह के सिलेबस को झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी तीन माह में पूरा करायेगी. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि पॉलिटेक्निक के पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा अब तक नहीं हुई है.

तीन साल के इस कोर्स की फाइनल परीक्षा जून माह में होनी है. फरवरी महीने के 15 दिन बीत जाने के बाद भी परीक्षा से संबंधित किसी तरह की जानकारी झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी की ओर से नहीं दी गयी है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- दिल्ली चुनाव में हेट स्पीच पर FIR नहीं करने के पूर्व सीईसी के सवालों का चुनाव आयोग ने दिया जवाब

भविष्य को लेकर चिंता में छात्र

अब इसे लेकर स्टूडेंट्स का कहना है कि विवि छह माह के सिलेबस को तीन माह में पूरा कराने में लगी है. वहीं पांचवें सेमेस्टर का रिजल्ट जारी होने के बाद स्टूडेंट्स को तीन माह के लगभग का समय ही परीक्षा की तैयारी के लिए मिल पायेगा.

विभिन्न पॉलिटेक्निक कॉलेजों  के स्टूडेंट्स ने बताया कि दो सेमेस्टर के बीच छह माह का अंतर होता है. इन छह महीनों में सिलेबस को पूरा कर लेना होता है. यूनिवर्सिटी ने अब तक पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा ली ही नहीं है. और फाइनल सेमेस्टर परीक्षा होने में चार महीने ही रह गये हैं.

Related Posts

#Giridih: गाड़ी खराब होने के बहाने घर में घुसे अपराधियों ने लूटे ढाई लाख कैश व 50 हजार के गहने

धनवार के कोडाडीह गांव की घटना, तीन दिन पहले ही गृहस्वामी ने बेची थी जेसीबी

छात्रों का कहना है कि जब पांचवां सेमेस्टर ही पूरा नहीं हो पाया है तो छठे सेमेस्टर की परीक्षा में देर होगी ही. इधर अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स का कैंपस सेलेक्शन भी हो चुका है. जिन स्टूडेंट्स को चुन लिया गया है उनके बीच इस बात को लेकर असमंजस है कि नौकरी तो मिल गयी है, लेकिन जुलाई तक कोर्स पूरा नहीं होता है तो हमारे भविष्य का क्या होगा.

इसे भी पढ़ें- दाभोलकर व पानसरे मर्डर केस की धीमी जांच पर आपत्ति जताने वाले बंबई HC के सीनियर जज का इस्तीफा

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

क्या कहना है यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक का

इस संबंध में पूछे जाने पर झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक राजेश कुमार ने बताया कि अभी पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा नहीं ली गयी है. परीक्षा कब तक ली जायेगी, यह कहना संभव नहीं है.

वहीं झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ गोपाल पाठक ने भी परीक्षा लेने को लेकर अनभिज्ञता जतायी. गौरतलब है कि झारखंड में चार तरह के संस्थानों में पॉलिटेक्निक की पढ़ाई करायी जाती है. जिसमें 17 सरकारी पॉलिटेक्निक संस्थान है. 07 पीपीपी मोड, 17 प्राइवेट और 03 नॉन इंजीनियरिंग संस्थान में पॉलिटेक्निल की पढ़ाई करायी जाती है. इन संस्थानों में 4049 स्टूडेंट्स पढ़ाई कर रहे हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like